हरियाणा : मुख्यमंत्री खट्ट ने कहा- चौधरी पर 13 संगीन मामले दर्ज थे, ऐसे इंसान के साथ कुछ भी हो सकता है

0
35

फरीदाबाद. हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी की हत्या के मामले पर शुक्रवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बयान दिया। उन्होंने कहा- चौधरी पर 13 संगीन मामले दर्ज थे। वह आपराधिक प्रवृति का था। ऐसे इंसान के साथ कुछ भी हो सकता है। पिछली सरकारों में अपराधिक छवि के लोगों को संरक्षण देने का काम किया गया। पुलिस गुनहगारों को जल्दी पकड़ लेगी। पांच लोगों की टीम गठित कर दी गई है।

गृहमंत्री अमित शाह पर भी ऐसे मामले दर्ज: तंवर

  1. सीएम खट्ट के बयान पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा- ऐसे मामले उनकी पार्टी में भी सांसदों, विधायकों और यहां तक कि गृहमंत्री अमित शाह पर भी दर्ज हैं। विकास पर 12 मामले चल रहे थे जो खत्म हो गए हैं। केवल 1 मामला बचा है, जो संगीन नहीं है।
  2. शुक्रवार को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष तंवर के साथ कई समर्थक प्रदर्शन करने के लिए सिविल अस्पताल पहुंचे। वहां विकास चौधरी का शव रखा था। इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई। तंवर ने कहा चौधरी के अंतिम संस्कार के लिए भी परिवार को लड़ाई लड़नी पड़ रही है। इससे बुरे दिन नहीं हो सकते।
  3. कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष तंवर ने बताया कि गुरुवार शाम 4 बजे पुलिस, विकास चौधरी का शव देने को तैयार थी लेकिन परिजनों ने इसे लेने से मना कर दिया था। जब शुक्रवार सुबह परिजनों ने शव मांगा तो पुलिस ने शव देने से मना कर दिया। इसके पीछे कोई साजिश है। विकास के लिए न्याय की लड़ाई जारी रहेगी। प्रदेश में कानून व्यवस्था खत्म हो गई है।
  4. बदमाशों ने 20 से अधिक राउंड फायर किए: रिपोर्ट

    हरियाणा कांग्रेस के प्रवक्ता विकास चौधरी की गुरुवार सुबह गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वारदात फरीदाबाद के सेक्टर-9 में विकास के घर से महज 500 मीटर दूर सुबह 9 बजे के आसपास हुई थी। चौधरी अपनी गाड़ी खड़ी कर रहे थे, तभी हमलावरों ने दो तरफ से अंधाधुंध फायरिंग कर दी। बदमाशों ने 20 से अधिक राउंड फायर किए।

  5. मृतक चौधरी अपने छोटे भाई गौरव के साथ फाइनेंस कंपनी चलाते थे। उनकी 14 और 7 साल की 2 बेटियां हैं। उनके पिता आरसी चौधरी ने किसी रंजिश की बात से इनकार किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार विकास के खिलाफ भी विभिन्न थानों में हत्या के प्रयास, अगवा करने और मारपीट समेत कई केस दर्ज हैं। पुलिस ने हत्यारों को पकड़ने के लिए टीमें गठित की हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here