Sunday, September 19, 2021
Homeमध्य प्रदेशमप्र : मंदसौर में भारी बारिश, 3500 से ज्यादा लोग रेस्क्यू, सेल्फी...

मप्र : मंदसौर में भारी बारिश, 3500 से ज्यादा लोग रेस्क्यू, सेल्फी लेते वक्त प्रोफेसर दंपती और बेटी पानी में बही

मंदसौर. मंदसौर जिले में मंगलवार रात हुई भारी बारिश के बाद मंदसौर और मल्हारगढ़ तहसील के कई गांव डूब गए हैं। भारी बारिश के चलते तीन लोग बह गए हैं, जबकि जलमग्न हुए गांव में फंसे 35 सौ से ज्यादा लोगों को एनडीआरएफ की टीम ने निकालकर राहत कैंपों में पहुंचाया है। वहीं सेल्फी ले रही प्रो. की पत्नी और बच्ची पुलिया धंसने से पानी में बह गए। पत्नी का शव मिल गया है, जबकि बच्ची की तलाश जारी है। पशुपतिनाथ मंदिर में भी कमर तक पानी भर गया है।

मंगलवार रात करीब साढ़े 11 बजे तेज बारिश शुरू हुई, जो सुबह करीब साढ़े 6 बजे तक चली। रात के पहर धीरे-धीरे बढ़ रहा था, लेकिन बारिश लगातार तेज हो रही थी। देर रात मंदसौर और मल्हारगढ़ तहसील में जैसे बादल फट गए हों। कुछ ही घंटों की बारिश के बाद एक दर्जन के करीब गांव जलमग्न हो गए और लोग पानी में डूबने लगे। तेज बारिश के बाद प्रशासन और एनडीआरएफ की टीम लोगों को राहत शिविर में पहुंचाने लगी। सुबह तक 35 सौ से ज्यादा लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया।

सेल्फी लेते समय पुलिया धंसी, प्रो. का परिवार बहा
मिली जानकारी अनुसार तेज बारिश के बाद कर्मचारी कॉलोनी के समीप पुलिया उफान पर थी। उफनी पुलिया देखने प्रो. आरडी गुप्ता पत्नी पत्नी बिंदु के साथ सुबह गए थे। इसके बाद वे वापस घर आए तो बेटी आश्रुति ने भी उफनी पुलिया को देखने की जिद की। इसके बाद तीनों फिर से पुलिया पर पहुंचे और सेल्फी लेने लगे। इसी दौरान पुलिस तेज आवाज करती हुई धंस गई और बेटी पानी में बहने लगी, इस पर बेटी को पकड़ने मां आगे बढ़ीं तो वे भी बहने लगीं। उन्हें पकड़ने प्राे. गुप्ता बढ़े, लेकिन उन्हें लोगों ने बचा लिया।लेकिन बेटी ओर पत्नी दोनों तेज बहाव में बह गईं। बचाव दल ने मेघदूत नगर के पास नाले से उनकी पत्नी को बाहर निकाला गया। हॉस्पिटल ले जाते वक्त उनकी मृत्यु हो गई। लेकिन बेटी का पता नहीं चल पाया। यह पुलिया गांधी नगर और शिक्षक कॉलोनी को जोड़ती है।

रातभर में 5 इंच से ज्यादा बारिश से गांव बादरी, काचरिया चंद्रावत, गुजरदा, बाजखेड़ी, जूना हेडा, हेदरवास जलमग्न जलमग्न हो गए हैं। वहीं शिवना नदी के उफान पर आने से पशुपति नाथ मंदिर में भी चार से पांच फीट पानी घुस गया है। अमलावद गांव स्थित पुलिस में एक युवक उफान में बह गया, जिसकी तलाश की जा रही है।

पशुपतिनाथ का शिवना ने किया जलाभिषेक, स्कूलों की छुट्‌टी
रातभर हुई तेज बारिश के बाद शिवना नदी का जल स्तर अचानक बढ़ गया और इसका पानी पशुपतिनाथ मंदिर के गर्भगृह तक जा पहुंचा, जहां शिवना ने भोलेनाथ का जलाभिषेक किया। इस सीजन में यह दूसरी बार है जब पानी गर्भगृह तक पहुंचा है। तेज बारिश के बाद कलेक्टर मनोज पुष्प ने मंदसौर जिले के मल्हारगढ़ और मंदसौर तहसील के स्कूलों की बुधवार को छुट्‌टी घोषित कर दी।

उफने नाले को पार करते समय बहा युवक
तेज बारिश के बाद विधायक यशपालसिंह सिसोदिया के निवास पर भी पानी घुसा। तो गीताभवन अंडर ब्रिज में भी कमर तक पानी जमा हो गया। ग्राम थडोद नई आबादी क्षेत्र में लोग छतों पर चढ़कर पानी से बचे। ग्राम बादरी में चार भैंसों की मौत हो गई, जबकि पांच मकान गिर गए। नाहरगढ़ के भूखी गांव, लुनाहेड़ा, बैलारा और देवरी के बीच का तालाब टूट गया है, जिसमें बापूलाल धाकड़ निवासी बड़वन के नाले में बहने की खबर है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments