Sunday, September 19, 2021
Homeकोरोना अपडेटहिमाचल में 24 घंटे में 64 रिकाॅर्ड माैतें, 4977 केस, अब रिकवरी...

हिमाचल में 24 घंटे में 64 रिकाॅर्ड माैतें, 4977 केस, अब रिकवरी रेट 72.81%

सुखद बात ये है कि पिछले 11 दिनाें के भीतर प्रदेश में 21 हजार 751 मरीज काेराेना से रिकवर हुए हैं। पहली मई काे प्रदेश में काेराेना से ठीक हाेने वालाें का आंकड़ा जहां 80,534 था वहीं आज मंगलवार काे यह बढ़ कर1,02,499 के पास पहुंच गया है। वहीं चिंता की बात ये है कि प्रदेश में बीते 24 घंटाें के दाैरान काराेना से अब तक की सबसे ज्यादा रिकाॅर्ड 64 माैतें हुईं है। ये एक दिन में प्रदेश में हुई सबसे ज्यादा मौतें हैं।

3 घंटे की छूट के दौरान सब्जी मंडी में उमड़ी लोगों की भीड़।
  • 11 दिन में 21,751 मरीज हुए ठीक, लेकिन इसके बावजूद 40 दिन में 18.93% गिरा रिकवरी रेट

इससे प्रदेश में काेराेना से मरने वालाें का आंकड़ा 1989 के पास पहुंच गया है। कांगड़ा में सबसे ज्यादा 21 मौतें, सोलन में 12, मंडी में 10, शिमला में 7, सिरमौर व ऊना जिलों में 4-4, चंबा में 3, हमीरपुर में 2 और कुल्लू में एक मौत हुई हैं।

मंगलवार को 3098 मरीजों ने इस वायरस से जंग भी जीती है। जबकि काेराेना के 4977 नए मरीज पाॅजिटिव आए है। कांगड़ा जिले में 1504, मंडी में 881, शिमला में 583, हमीरपुर में 443, बिलासपुर में 335, ऊना में 313, सोलन में 274, चंबा में 266, सिरमौर में 213, कुल्लू में 117, लाहौल-स्पीति में 29 और किन्नौर जिले में 19 नए मामले कोरोना पाॅजिटिव आए हैं। प्रदेश में कोरोना वायरस के कुल 140759 मामले हो चुके हैं।

अप्रैल में रिकवरी रेट 93% से ऊपर था, मई में 72% पहुंचा

प्रदेश में भले ही काेराेना संक्रमण से ठीक हाेने वालाें का आंकड़ा एक लाख के पार पहुंच गया हाे, लेकिन काेराेना के रिकवरी रेट में तेजी से गिरावट भी आई है। प्रदेश में पिछले 40 दिनाें में काेराेना के रिकवरी रेट में 18.93% की गिरावट आई है।

पहले अप्रैल काे प्रदेश में काेराेना का रिकवरी रेट 93.17 प्रतिशत रिकार्ड किया गया था था। वहीं मंगलवार काे यह 74.24 प्रतिशत रिकार्ड किया गया है। यानि जिस तेजी से काेराेना संक्रमण का आंकड़ा बढ़ रहा है, उतनी तेजी से मरीज ठीक नहीं हाे रहे हैं।

एक्सपर्ट व्यू -जिस रफ्तार से संक्रमण बढ़ रहा, उतनी तेजी से मरीज ठीक नहीं हो रहे

हिमाचल प्रदेश के सबसे बड़े आईजीएमसी अस्पताल के प्रधानाचार्य डाॅक्टर रजनीश पठानिया ने मंगलवार को बताया कि प्रदेश में जिस तेजी से काेराेना संक्रमण के मरीज बढ़ रहे हैं, उतनी तेजी से मरीज ठीक नहीं हाे रहे हैं। उन्होंने कहा कि काेराेना संक्रमित मरीजाें काे ठीक हाेने में लगभग दस से 15 दिन का समय लग जाता है तब तक काेराेना संक्रमण के नए मरीज सामने आ रहे हैं, जिससे काेराेना का रिकवरी रेट गिर रहा है।

रिकवरी रेट में हो रही गिरावट का कारण टेस्टिंग लगातार बढ़ना भी

काेराेना के रिकवरी रेट में गिरावट का एक बड़ा कारण काेराेना की टेस्टिंग का बढ़ना और इस दाैरान अधिक काेराेना संक्रमित मरीजाें का पाॅजिटिव पाया जाना है। पहली मई से 11 मई तक प्रदेश में रिकाॅर्ड एक लाख 15 हजार 312 लाेगाें की काेराेना जांच हुई है।

डाॅक्टर पठानिया की मानें ताे प्रदेश में जितनी ज्यादा काेराेना की टेस्टिंग हाेगी उतना ज्यादा काेराेना संक्रमित मरीजाें का पता चलेगा और उतना ही पाॅजिटिव हाेने के पता चलेगा, जिससे रिकवरी रेट में गिरावट दर्ज की जाएगी।

प्रदेश में काम कर रही 17 कंपनियाें ने मदद के लिए बढ़ाया हाथ

प्रदेश में काम कर रही 17 नामी कंपनियाें ने भी मदद काे अपना हाथ आगे बढ़ाया है। ये वाे कंपनियां है जाे प्रदेश में अपना काराेबार चला रही है। इसमें कई कंपनियाें ने सरकार काे 300 बैड, एक आपातकालीन गाड़ी, 2250 ऑक्सीजन सिलेंंडर, 700 ऑक्सीमीटर, 1500 मास्क आदि की वित्तीय सहायता इन कंपनियाें ने की है। इसमें अधिकतर कंपनियां, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, परवाणु, कुल्लू में अपना काम कर रहीं है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments