Friday, September 24, 2021
Homeमध्य प्रदेशहॉकी खिलाड़ी विवेक सागर ने टोक्यो ओलिंपिक में जीता ब्रॉन्ज मेडल

हॉकी खिलाड़ी विवेक सागर ने टोक्यो ओलिंपिक में जीता ब्रॉन्ज मेडल

टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने ब्रॉन्ज मेडल जीता है। MP के नर्मदापुरम (होशंगाबाद) जिले के इटारसी के रहने वाले खिलाड़ी विवेक सागर भी इसी टीम का हिस्सा थे। 12 अगस्त को मध्यप्रदेश सरकार विवेक का सम्मान करेगी। CM शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में मिंटो हॉल में सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने 41 साल बाद कोई मेडल जीता है। टीम ने ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले मैच में जर्मनी को 5-4 से हरा दिया था। इसी टीम में इटारसी के विवेक सागर भी शामिल थे। शानदार खेल की वजह से अन्य हॉकी खिलाड़ियों के साथ विवेक ने भी लोगों का दिल जीत लिया है। अब मप्र सरकार उनका सम्मान करने वाली है। इसके लिए मंगलवार को सीएम हाउस में फाइल पहुंची।

CM ने की थी 1 करोड़ रुपए देने की घोषणा

हॉकी टीम के ब्रॉन्ज मेडल जीतने के बाद मध्य प्रदेश के CM शिवराज सिंह चौहान ने इटारसी के खिलाड़ी विवेक और मध्यप्रदेश हॉकी एकेडमी में ट्रेनिंग लेने वाले खिलाड़ी नीलकांता शर्मा को 1-1 करोड़ रुपए बतौर सम्मान निधि के रूप में देने की घोषणा की थी। 12 अगस्त को यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। विवेक के साथ नीलकांता भी आयोजन में शामिल हो सकते हैं।

ग्राम चांदौन के विवेक ने इटारसी के मैदान से की प्रैक्टिस

विवेक सागर इटारसी तहसील के छोटे से गांव चांदौन के रहने वाले हैं। विवेक ने हॉकी की शुरुआत इटारसी के हॉकी मैदान से की। विवेक ने हॉकी के सीनियर खिलाड़ी, कोच स्वर्गीय दीपक जेम्स, स्थानीय कोच कन्हैया गुरयानी सहित सीनियर्स के मार्गदर्शन में हॉकी खेलना शुरू किया।

विवेक सागर की उपलब्धियां

विवेक हॉकी की ओलिंपिक टीम में चुने जाने से पहले कई बड़ी प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का हिस्सा रह चुके हैं। विवेक सागर इंडियन जूनियर हॉकी टीम की कप्तानी भी कर चुके हैं। यूथ ओलिंपिक गेम 5 ए साइड टूर्नामेंट में भारतीय दल के कप्तान के रूप में सिल्वर मेडल, चैंपियंस ट्रॉफी नीदरलैंड में सिल्वर मेडल, एशियन गेम्स 2018 जकार्ता में ब्रॉन्ज मेडल आदि अंतर्राष्ट्रीय खेलों में पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं।

विवेक को एफआईएच राइजिंग स्टार अवॉर्ड 2019 और मध्यप्रदेश शासन के द्वारा एकलव्य अवार्ड 2018 से भी नवाजा जा चुका हैं। विवेक को ‘यूथ-ओलिंपिक’ में ‘बेस्ट-स्कोरर’ और ‘फाइनल सीरीज भुवनेश्वर’ में ‘बेस्ट जूनियर प्लेयर अवॉर्ड’ से भी सम्मानित किया जा चुका है। टोक्यो ओलिंपिक से पहले वे 62 अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेल चुके थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments