Wednesday, September 22, 2021
Homeविश्वअमेरिका : महिलाएं देशों को चलातीं, तो हर तरफ सुधार दिखता, रास्ते...

अमेरिका : महिलाएं देशों को चलातीं, तो हर तरफ सुधार दिखता, रास्ते से न हटने वाले बुजुर्ग मर्द समस्याओं की वजह: ओबामा

वॉशिंगटन. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि अगर दुनिया को महिलाएं चलातीं, तो लोगों के जीवनस्तर में सुधार दिखता और हर तरफ अच्छे परिणाम होते। सिंगापुर में एक कार्यक्रम में उन्होंने नारी शक्ति की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे सर्वश्रेष्ठ नहीं हो सकतीं, लेकिन यह बात निर्विवाद है कि वे पुरुषों से बेहतर हैं।

ओबामा ने कहा, “जब राष्ट्रपति था, तो कई बार ख्याल आया कि अगर महिलाएं दुनिया चला रही होतीं, तो कैसा होता। मुझे पूरा विश्वास है कि अगर दो साल के लिए हर देश की बागडोर महिलाओं के हाथ में हो जाए तो आपको हर जगह सुधार दिखेगा। इससे लोगों का जीवनस्तर सुधरेगा। अभी आपको कहीं भी समस्याएं दिखें, तो समझ जाइए कि यह उन बूढ़े पुरुषों की वजह से है, जो रास्ते से नहीं हटना चाहते।”

ओबामा ने आगे कहा, “राजनेताओं के लिए जरूरी है कि वे खुद को याद दिलाएं कि उन्हें काम करना है। वे जिस पद पर हैं, वहां जमे रहने के लिए नहीं हैं। आप वहां सिर्फ अपनी ताकत और अहमियत बढ़ाने के लिए नहीं हैं।’’

राजनीति छोड़ने के बाद ओबामा ने शुरू किया फाउंडेशन

2009 से 2016 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे ओबामा ने राष्ट्रपति पद छोड़ने के बाद से ही राजनीति से दूरी बना ली थी। अभी वे पत्नी मिशेल के साथ ‘ओबामा फाउंडेशन’ चलाते हैं। यह संस्था दुनियाभर के युवा नेताओं और कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन करती है। ओबामा के मुताबिक, वे समाज में नई खोज को अहमियत देना चाहते हैं। रोजमर्रा की जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए लोगों को काबिलियत सिखाना चाहते हैं। ओबामा फाउंडेशन बर्लिन, जकार्ता साउ पाउलो और नई दिल्ली में भी कार्यक्रम कर चुका है। ओबामा 2017 में दिल्ली आए थे। यहां उन्होंने युवा नेताओं से बातचीत की थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments