दिल के दौरे से बचना है, तो, इन चीजों को डाइट में ना करे शामिल

0
110

कई लोग दिल की बीमारी या हार्ट अटैक के बाद भी मज़बूत और अच्छी लाइफ जी पाते हैं। हालांकि, यह तभी हो पाता है, जब वे अपनी दिल की सेहत को बेहतर बनाने के लिए लाइफस्टाइल में बदलाव लाते हैं। दिल की सेहत के हिसाब से डाइट बनाने से आप चुस्त रहेंगे और भविष्य में दिल के दौरे से भी बचेंगे। तो आपको डाइट में सैचुरेटेड फैट्स, शुगर और सोडियम के सेवन को बेहद कम करना होगा।हार्ट अटैक के बाद ब्लड कोलेस्ट्रॉल को कम रखकर आप भविष्य में होने वाले दिल के दौरे के जोखिम को कम कर सकते हैं। सैचुरेटेड और ट्रांस फैट्स का सेवन ब्लड में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने का काम करता है। इसलिए बेहतर है कि आप अपनी डाइट से तले-भुने खाने को शामिल न करें। कई रेस्त्रां अपने खाने को सैचुरेटेड फैट्स में तलते हैं, इसलिए आप खुद घर पर ओलिव ऑयल, नट ऑयल जैसे हेल्दी फैट वाली तेल का इस्तेमाल कर फ्राई कर सकते हैं।हॉट डॉग्ज़, सॉसेज और सलामी जैसे और कई प्रोसेस्ड मीट में सोडियम और नाइट्रेट की मात्रा उच्च होती है। इससे आपका ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है और हार्ट अटैक का जोखिम भी बढ़ता है। हाई ब्लड प्रेशर ज़्यादा खॉतरनाक होता है, क्योंकि इसके अक्सर कोई लक्षण नहीं होते। आपको इसका तभी पता चलेगा जब आप ब्लड प्रेशर मापेंगे।

दिल को जवान रखने के लिए आपको मीठी चीज़ों से भी दूरी बनानी चाहिए, क्योंकि इसमें अक्सर सैचुरेटेड फैट्स होते हैं और रिफाइन्ड शुगर, जो ब्लड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं। आप घर पर कम चीनी या फिर हेल्दी मीठी चीज़ों के इस्तेमाल से खुद कुकीज़ और केक बेक कर सकते हैं।दिल की बीमारी में स्मार्ट तरीके से डाइट बनानी होती है। ऐसी चीज़ों पर ध्यान दें जिसके ज़रिए न चाहते हुए भी नमक आपकी डाइट में चला जाता है। नट्स पोषण से भरपूर होते हैं और गुड फैट्स का स्त्रोत होते हैं, लेकिन नमक युक्त नट्स की जगह बिना नमक वाले नट्स का सेवन बेहतर होगा।

दूध युक्त चॉकलेट अच्छी ज़रूर होती है, लेकिन इससे बेहतर है कि डार्क चॉकलेट खाई जाए। खासतौर पर अगर आप दिल की सेहत में सुधार करना चाह रहे हैं। मिल्क चॉकलेट में डार्क चॉकलेट की तुलना ज़्यादा शुगर और फैट्स होते हैं। डॉर्क चॉकलेट एंटीऑक्सीडेंट्स और फ्लेवनॉइड्स से भरी होती है, जो ब्लड प्रेशर और सूजन को कम करने का काम करती है।सॉस और क्रीम को डाइट में लेने से रिफाइन्ड शुगर और फैट्स भी आ जाते हैं। सलाद ड्रेसिंग और केचप स्वाद में भले ही मीठे न लगें, लेकिन इनमें मौजूद चीनी आपका ब्लड शुगर स्तर बढ़ा देती हैं। सोडा चीनी से भरपूर होता है, जो ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ाने का काम करता है और आपकी धमनियों पर तनाव डालने का काम करता है, जिससे दिल की समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। सोडा का सेवन न करें और पानी ज़्यादा से ज़्यादा पिएं।शराब भी सोडे की तरह आपकी धमनियों पर दबाव डालती है, जिससे आपका ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर स्तर बढ़ता है। साथ ही शराब के सेवन से आपकी खाने की आदत भी खराब होती है, जो आपके दिल की सेहत के लिए ठीक नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here