कोरोना को लेकर झूठ बोला : ड्राइवर ने बस रोकने से इनकार करने पर आईआईटी मद्रास की छात्रा ने खुद को पॉजिटिव बताया

0
33

चेन्नई. एक तरह जहां पूरी दुनिया कोरोनावायरस के संक्रमण से परेशान है, वहीं आईआईटी मद्रास की एक छात्रा ने इसे लेकर एक भद्दा मजाक किया। उसने बस में सीट लेने और उसे रुकवाने के लिए खुद को कोरोनावायरस से संक्रमित बता दिया।

छात्रा शनिवार को कोयम्बटूर से सवार हुई थी। भीड़ में सीट खाली न होने पर उसने एक व्यक्ति से सीट खाली करने को कहा। उसने बताया कि वह तीन दिन से कोरोनावायरस से संक्रमित हैं। कुछ देर बाद छात्रा ड्राइवर के पास पहुंची और बीच रास्ते में बस रुकवाने की जिद करने लगी। ड्राइवर ने बस रोकने से इनकार कर दिया। तब छात्रा ने सबके सामने कहा- वह कोरोनावायरस से पीड़ित है। इसके बाद ड्राइवर ने बस रोकी और उसे नीचे उतार दिया। इसके बाद छात्रा बस के पीछे कार से आ रहे दोस्तों संग चली गई। छात्रा की इस हरकत पर बस में सवार एक यात्री ने कोरोनावायरस के लिए जारी राज्य इमरजेंसी नंबर पर शिकायत की। साथ ही बस कंपनी से मौजूदा बस को सैनिटाइज कराने और दूसरी बस में यात्रा कराने को कहा।

टिकट बुकिंग डिटेल से छात्रा को ट्रैक किया
सार्वजनिक स्वास्थ्य और महामारी निवारक चिकित्सा निदेशालय के संयुक्त निदेशक, पी संपत ने बताया, ‘‘तमिलनाडु ने कोरोनावायरस को स्टेट इमरजेंसी घोषित किया है। छात्रा की हरकत पर शिकायत के बाद बस को रोककर इमरजेंसी में सैनिटाइज किया गया। इसके बाद टिकट बुकिंग डिटेल के आधार पर छात्रा का नंबर ट्रैक कर उसे स्वास्थ्य विभाग बुलाया गया। नहीं आने पर पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की चेतावनी भी दी गई।’’

छात्रा को दोस्तों ने बस रुकवाने का चैलेंज दिया था
पी संपत के मुताबिक, ‘‘चेतावनी के बाद छात्रा स्वास्थ्य विभाग आई। उसने बताया कि उसने ऐसा दोस्तों से शर्त जीतने के लिए किया। इसके लिए कोरोनावायरस से संक्रमित होने का नाटक किया। लड़की को सख्त चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है। इसे लेकर आईआईटी मद्रास के प्रबंधन ने भी छात्रा को दोबारा ऐसा नहीं करने की चेतावनी दी।

13 राज्यों में फैला कोरोनावायरस
देश में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या शनिवार तक 90 हो गई है। अब तक दो लोगों की मौत हो गई। 13 राज्यों में संक्रमण फैल चुका है। महाराष्ट्र और यूपी में दो-दो नए मामलों की पुष्टि हुई है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के मुताबिक अबतक प्रदेश में कुल 19 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। वहीं उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पिता और पुत्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पंजाब सरकार ने विदेश यात्रा से लौटे 6011 लोगों की निगरानी शुरू कर दी है। इंफोसिस ने बेंगलुरु स्थित अपना सैटेलाइट ऑफिस अगले आदेश तक बंद कर दिया है। इंफोसिस के कुछ कर्मचारी एक संदिग्ध मरीज के संपर्क में आए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here