Sunday, September 26, 2021
Homeचंडीगढ़चंडीगढ़ में पिछले 24 घंटों में संक्रमित 11 मरीजों की मौत, शहर...

चंडीगढ़ में पिछले 24 घंटों में संक्रमित 11 मरीजों की मौत, शहर में 45 हजार से ज्यादा पॉजिटिव मिल चुके है

शहर में कोरोना संक्रमण के प्रभाव को रोकने के लिए प्रशासन की ओर से आज से लॉकडाउन तो नहीं लगाया जा रहा लेकिन शाम से सुबह तक लगाए जाने वाले नाइट कर्फ्यू में सख्ती करने के निर्देश दिए है। इसके अलावा शहर में गैर जरूरी चीजों की दुकानों को बंद रखने के आदेश दिए गए है।

आज से पाबंंदियां रहेंगी

आज 4 मई शाम 5 बजे से 11 मई सुबह 5 बजे तक कई तरह की पाबंंदियां लगाई गई हैं। नाइट कर्फ्यू पहले की तरह रोज शाम 6 बजे से सुबह 5 बजे तक होगा। इसके अलावा वीकएंड कर्फ्यू भी लगेगा। यह फैसला प्रशासक वीपी सिंह बदनोर की प्रमुखता में हुई मीटिंग में लिया गया। मीटिंग में कहा गया कि बाॅर्डर को सील नहीं किया जा सकता, क्योंकि पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ है। लॉकडाउन लगाने से अर्थव्यवस्था के साथ प्रवासी मजदूरों पर भी काफी ज्यादा असर पड़ता है और माइग्रेशन की स्थिति आ सकती है। इसलिए लॉकडाउन के बजाय पाबंंदियां लगाई जा रही हैं।

अस्पतालों में बेड बढ़ाने को कहा

प्रशासक ने हेल्थ डिपार्टमेंट को अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के लिए कहा है। प्रशासक ने प्रिंसिपल सेक्रेटरी हेल्थ की प्रमुखता में एक स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया है, जो सेक्टर-16, 32 और 48 के अस्पतालों में कोरोना की वजह से हो रही मौतों को लेकर ऑडिटिंग करेगी। फैटेलिटी रेट को कम किया जा सके और जो भी इनडोर मेडिकल ट्रीटमैंट में सुधार की जरूरत होगी, उस पर टास्क फोर्स काम करेगी।

इन पर रहेगी पूरी तरह पाबंदी

हवाई, रेल और सड़क के जरिए आने वाले लोगों के पास 72 घंटे तक कोविड नेगेटिव रिपोर्ट या फिर कम से कम एक डोज वैक्सीन की लगी होनी चाहिए, जोकि दो सप्ताह पहले तक लगवाई हो।

सरकारी ऑफिस और बैंक 50% कर्मचारियों के साथ काम करेंगे, जिलों के डीसी कर्मचारियों की कोविड मैनेजमेंट से जुड़ी ड्यूटी का फैसला ले सकते हैं।

कार, टैक्सी में दो सवारियों से ज्यादा नहीं बैठा सकेंगे, मरीज को छूट होगी।

विवाह और अंतिम संस्कार में 10 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे

गांवों में नाइट कर्फ्यू का पालन करवाने को ठीकरी पहरा दिया जाएगा, जिसमें वीकएंड कर्फ्यू भी शामिल है।

सब्जी मंडियों में दुकानें खोलने की इजाजत होगी लेकिन सोशल डिस्टेंस का पालन करना होगा।

किसान यूनियन से पेट्रोल पंप, टोल प्लाजों और माॅल में भीड़ इकट्‌ठी नहीं करने की अपील की गई है।

आज यहां जांच कर रही स्वास्थ्य विभाग की टीम

शहर में स्वास्थ्य विभाग की टीमों की ओर से रोजाना कोरोना संक्रमण के संदिग्ध मरीजों की जांच की जा रही है। टीम आज सेक्टर-17 के बस स्टैंड, सेक्टर-8, हल्लोमाजरा, कंटेनमेंट एरिया व रेलवे स्टेशन चंडीगढ़, एसडीएम सेंट्रल कंटेनमेंट जोन में पहुंच कर जांच कर रही है। प्रशासन की ओर से मरीजों के टेस्ट बढ़ाने को लेकर टीमों की संख्या को बढ़ाया गया है।

लॉकडाउन के बावजूद संक्रमितों की संख्या बढ़ रही

वीकएंड लॉकडाउन व नाइट कर्फ्यू के बावजूद काेराेना संक्रमित मरीजों की संख्या बेकाबू हाेती जा रही है। शहर में पिछले 24 घंटों के दौरान 3911 संदिग्ध मरीजों के टेस्ट किए गए जिसमें से 890 पॉजिटिव मरीज पाए गए और 11 संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। शहर में आज तक 45 हजार 196 पॉजिटिव मरीज मिल चुके है,जिसमें से 36 हजार 746 मरीज ठीक हो गए है। शहर में अभी तक 507 मरीजों की मौत हो चुकी है।

कोविड सेंटर से भागा मरीज

शहर के सेक्टर-22 में स्थित सूद धर्मशाला में बनाए गए कोविड सेंटर से एक पॉजिटिव पेशेंट भाग गया। अभी पेशेंट का क्वारैंटाइन टाइम चल रहा था। मामले में सेक्टर-17 थाना पुलिस ने कोविड सेंटर में तैनात डॉक्टर सान्या शर्मा की शिकायत पर केस दर्ज कर मरीज की तलाश शुरू कर दी है। बताया गया कि हल्लोमाजरा के रहने वाले दीपक राम की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उसे 1 तारीख को सेंटर में लाया गया। 2 तारीख को दीपक बिना किसी को बताए सेंटर से लापता हो गया। डॉक्टरों ने उसकी तलाश की, लेकिन जब कुछ पता नहीं लग पाया तो सूचना पुलिस को दी गई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments