Sunday, September 19, 2021
Homeबिहारबिहार : उत्तर में और विकराल हुई बाढ़ की स्थिति, कई गांवों...

बिहार : उत्तर में और विकराल हुई बाढ़ की स्थिति, कई गांवों का संपर्क टूटा, लाखों लोग प्रभावित

मुजफ्फरपुर. उत्तर बिहार में बाढ़ का कहर कम हाेने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार काे विभिन्न जिलाें में डूबने से 30 और लाेगाें की माैत हाे गई। मुजफ्फरपुर में बाढ़ के पानी में डूबने से 10, समस्तीपुर में 5, सीतामढ़ी-शिवहर में 5, दरभंगा में 4, माेतिहारी में 3 व रक्साैल में 3 लोगों की माैत हाे गई। वहीं, मधुबनी में 2 व दरभंगा में एक लापता हैं।

मुजफ्फरपुर में बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में शुक्रवार काे 19 सेमी की वृद्धि दर्ज की गई। नदी का जलस्तर सिकंदरपुर में खतरे के निशान से 9 सेमी ऊपर पहुंच गया। शनिवार सुबह तक जलस्तर में और 11 सेमी की वृद्धि की आशंका है। शहर के जीराेमाइल, लकड़ीढाई, अहियापुर, विजय छपरा, सिकंदरपुर, मिठनसराय आदि इलाकों में पानी फैलने से लोगों में दहशत है। उधर, माेतिहारी के बाढ़ प्रभावित ढाका, पताही, फेनहारा, पकड़ीदयाल, चिरैया, मधुबन व तेतरिया में लोगों की परेशानी बढ़ गई है। चिरैया में बाढ़ पीड़िताें ने सूची में नाम हटाने का आराेप लगाकर सीओ काे दाैड़ा-दाैड़ा कर पीटा।

शहर के सबसे अधिक प्रभावित इलाके

  • पानीकल, कमरा माेहल्ला व सिकंदरपुर में पहले से है पंप, वार्ड 45 के बांध पार में घुसा पानी
  • राताें-रात घर छाेड़ कर चंदवारा बांध और मारवाड़ी हाई स्कूल पहुंचे दर्जनों प्रभावित परिवार
  • मिल्लत कॉलोनी, बाड़ा जगन्नाथ, छींट भगवतीपुर व जेएन कॉलेज के आसपास देर रात घुसा पानी

आंकड़ों में समझें भयावहता

  • 4 वार्ड निगम क्षेत्र के पहले से हैं बाढ़ प्रभावित, इनमें 12, 13 , 15 व 45 शामिल
  • 3 और वार्डों पर मंडरा रहा है खतरा, 44, 46 और 47 के लोग हैं अलर्ट
  • 1.50 लाख से अधिक की आबादी जिले में अब तक प्रभावित
  • 1.20 लाख से अधिक की आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में है प्रभावित, बड़े इलाके पर अब भी संकट बरकरार
  • 30 हजार के करीब आबादी पर जल निकासी नहीं होने से बढ़ा दबाव

औराई: लखनदेई के पानी से 50 गांव प्रभावित

लखनदेई व मनुषमारा नदी में विगत तीन दिनों से लगातार हो रही जलस्तर में वृद्धि के कारण प्रखंड क्षेत्र की 12 पंचायतों के 50 गांव प्रभावित हो गए हैं। प्रमुख व ग्रामीण सड़कों पर बाढ़ का पानी चल रहा है। दो दर्जन गांवाें का आवागमन बंद हो गया है। लगभग एक दर्जन से अधिक सड़कें टूट चुकी है। धरहरवा, घनश्यामपुर, राजखंड उतरी, राजखंड  दक्षिणी, नयागांव, बभनगामा, औराई, आलमपुर सिमरी ,रतवारा पूर्वी ,रतवारा पश्चिमी, खेतलपुर, रामपुर, भलूरा  समेत 12 पंचायतों के 50 गांव के लोग पूर्ण रूप से  बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं।

लगभग एक दर्जन गांव का सड़क संपर्क भंग हो चुका है। शुक्रवार को बीडीओ सत्येन्द्र कुमार यादव कुमार यादव व सीओ शंकर लाल विश्वास ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। राजखंड उत्तरी पंचायत के  बलिया जोगिया व बसतपुर की सड़क संपर्क पूर्णरूपेण भंग हो गई है। राम खेतारी से बलिया सड़क पर पानी चल रहा है।धरहरवा पंचायत के सभी गांव में मुख्य सड़कों पर व ग्रामीण सड़कों पर बाढ़ का पानी चल रहा है। लगभग 500 घरों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। जदयू प्रखंड अध्यक्ष  बेचन महतो ने मुख्यमंत्री से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में अविलंब राहत व सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments