Wednesday, September 22, 2021
Homeबिहारविरोध : सीएए के खिलाफ भारत बंद का बिहार में मिला-जुला असर,...

विरोध : सीएए के खिलाफ भारत बंद का बिहार में मिला-जुला असर, पटना में सड़क पर उतरे जाप कार्यकर्ता

पटना. नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ बुधवार को विभिन्न संगठनों ने भारत बंद का ऐलान किया है। बिहार में भी बंद का मिला जुला असर देखा जा रहा है। राजद ने इस बंद से दूरी बनाई है। बुधवार सुबह पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। जाप, हम और सीपीआई कार्यकर्ताओं ने डाकबंगला चौराहा और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी और रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा भी बंद में शामिल हुए।

 

जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव का कहना है कि धर्म के नाम पर बांटने को लेकर सरकार ने ये कानून बनाया है। जब तक ये कानून वापस नहीं लिया जाता तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। कांग्रेस का कहना है कि भाजपा हिंदू-मुस्लिम करके ही चुनाव जीतती है। भारत के लोग संविधान पर चलना चाहते हैं। मोदी और नीतीश की गलत नीतियों के खिलाफ जो भी सड़क पर आएगा, कांग्रेस उसके साथ खड़ी होगी।

सीएए को लेकर भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद का कहना है कि ये तो लोगों को नागरिकता देने वाला कानून है। इसका देश में रहने वाले लोगों पर कोई असर नहीं होना है। विपक्ष लोगों के बीच भ्रम फैला रहा है। एनआरसी के मुद्दे पर तो अभी कोई बात ही नहीं है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments