Tuesday, September 28, 2021
Homeराज्यगुजरातअहमदाबाद में भारत बंद:बसें नहीं रुकीं तो NSUI के कार्यकर्ताओं ने ड्राइवरों...

अहमदाबाद में भारत बंद:बसें नहीं रुकीं तो NSUI के कार्यकर्ताओं ने ड्राइवरों को बीच सड़क रोका, बसों की चाभी लेकर भागे

बीआरटीएस बस रोककर चाभी छीनी और कार से भाग गए।
  • दक्षिण गुजरात किसान समाज ने ‘भारत बंद’ का समर्थन करने का ऐलान किया है
  • जबर्दस्त पुलिस बंदोबस्त के चलते कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बंद के प्रयास कारगर नहीं रहे

गुजरात में भारत बंद को सफल बनाने की कवायद लगातार जारी है। परिवहन को रोकने के लिए जगह-जगह हाईवे पर जाम लगाने की कोशिशें जारी हैं। वहीं, अहमदाबाद में NSUI के कार्यकर्ताओं की ओछी हरकत सामने आई है। कार्यकर्ताओं ने बीच सड़क पर 3 बीआरटीएस बसे रोकीं और ड्राइवरों को डरा-धमकाकर उनसे बसों की चाभी छीनकर फरार हो गए, जिससे यात्री परेशान हुए। हालांकि, पुलिस ने बस सेवा फिर से चालू करवा दी।

अहमदाबाद में गुजरात यूनिवर्सिटी के पास NSUI के कार्यकर्ताओं ने रोकीं बसें।
अहमदाबाद में गुजरात यूनिवर्सिटी के पास NSUI के कार्यकर्ताओं ने रोकीं बसें।

अहमदाबाद में करीब 40 प्रदर्शनकारी अरेस्ट
अहमदाबाद में जबर्दस्त पुलिस बंदोबस्त के चलते कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बंद के प्रयास कारगर नहीं रहे। कुछ इलाकों में नेता-कार्यकर्ताओं ने कोशिश की तो उन्हें अरेस्ट कर लिया गया। अहमदाबाद में अब तक करीब 40 प्रदर्शनकारियों को अरेस्ट किया गया है।

दक्षिण गुजरात किसान समाज का बंद को समर्थन
बता दें, दक्षिण गुजरात किसान समाज के प्रमुख रमेश पटेल ने ‘भारत बंद’ का समर्थन करने का ऐलान किया है। रमेश पटेल ने आगे कहा कि हमने गुजरात में चार कार्यक्रम करना तय किया है। जिसमें भारत बंद, 10 को गुजरात में प्रदर्शन, 11 को गांधीनगर की ओर कूच व 12 को दिल्ली की तरफ कूच करेंगे। कृषि कानून के बारे में जयेश का कहना है कि यह कानून किसान विरोधी है। इससे कॉर्पोरेट्स अपनी मंडी खड़ी करेंगे और गरीब किसान को नुकसान होगा।

पुलिस ने बस सेवा फिर से चालू करवा दी।
पुलिस ने बस सेवा फिर से चालू करवा दी।

गुजरात में लगाई गई है धारा-144
दक्षिण गुजरात में कुछ जगहों पर बंद का असर दिखा, लेकिन मध्य गुजरात में अहमदाबाद सहित अन्य शहरों में बंद का असर नजर नहीं आया। बता दें, भारत बंद को देखते हुए गुजरात सरकार ने दंड प्रक्रिया
संहिता की धारा 144 लगाई है, जिसके तहत चार से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments