Saturday, September 18, 2021
Homeझारखण्डझारखंड : विधानसभा मानसून सत्र का आखिरी दिन आज, जेएमएम का प्रदर्शन

झारखंड : विधानसभा मानसून सत्र का आखिरी दिन आज, जेएमएम का प्रदर्शन

रांची. झारखंड विधानसभा सत्र का शुक्रवार को आखिरी दिन है। इस दौरान ध्‍यानाकर्षण प्रस्‍ताव के दौरान विपक्ष का हंगामा जारी रहा। इससे पहले, नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के नेतृत्व में झारखंड मुक्ति मोर्चा ने विधानसभा मुख्य द्वार पर विरोध प्रदर्शन किया। पार्टी विधायकों ने घोटाले की जांच की मांग को लेकर विधानसभा परिसर में प्रदर्शन किया। वहीं विधायक भानु प्रताप शाही ने राज्य में संविदाकर्मियों के लिए कानून बनाने की मांग की।

मानसून सत्र के चौथे दिन भी विपक्ष का हंगामा
इससे पहले  झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र का गुरुवार को चौथा दिन था। सदन की कार्रवाही शुरू होते ही विपक्ष का हंगामा भी शुरू हो गया। झामुमो ने जहां स्थानीय नीति में संशोधन को लेकर हंगामा किया तो कांग्रेस ने सूखा पर सरकार को घेरने की कोशिश की। झामुमो के विधायक वेल में आकर नारे लगाने लगे।  इसके बाद भाजपा विधायकों ने भी नारे लगाए।

जेबीवीएनएल के एमडी राहुल पुरवार मांग रहे घूस: हेमंत सोरेन
वहीं, नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरने ने कहा- इंजीनियरिंग एंड टेक्निकल सर्विसेज कंसल्टेंट्स टू टाटा प्रोजेक्ट्स के अधिकारी अविनाश कुमार ने मुख्य सचिव को ई-मेल कर आरोप लगाया है कि जेबीवीएनएल (झारखंड बिजली वितरण निगम लि.) के एमडी राहुल पुरवार घूस मांग रहे हैं। टाटा प्रोजेक्ट लि. के अधिकारी अविनाश कुमार के मेल के अनुसार 42 करोड़ के पेमेंट के बदले बतौर कमीशन मांगा 2.5 परसेंट मांगा जा रहा है। खुद को राहुल पुरवार का संबंधी बताने वाला सुमित कुमार पुरवार ने कॉल कर कई बार कमीशन मांगा और धमकाया भी है। कमीशन मांगने वक्त सुमित ने कहा कि राहुल पुरवार के अलावा यह पैसे सीएमडी, सीएस और मुख्यमंत्री तक को देना पड़ता है। बाद में राहुल पुरवार ने विभिन्न कांट्रेक्टरों से दिल्ली में मुलाकात की थी। वहां पर उन्होंने कहा था कि कमीशन दें नहीं तो अनिश्चित काल के लिए भुगतान लंबित रहेगा। नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने अविनाश कुमार के ई-मेल को विधानसभा में दिखाया।

झामुमो के सभी विधायकों ने सदन का बहिष्कार किया
हेमंत ने आरोप लगाया कि जेबीवीएनएल (झारखंड बिजली वितरण निगम लि.) के एमडी राहुल पुरवार कंपनियों को धमका कर घूस ले रहे हैं। पेमेंट करने के बदले वे ढाई प्रतिशत घूस मांगते हैं। उन्होंने इंजीनियरिंग एंड टेक्निकल सर्विसेज कंसल्टेंट्स टू टाटा प्रोजेक्ट्स के अधिकारी अविनाश कुमार द्वारा मुख्य सचिव को 7 जून 2019 को भेजे गए ई-मेल को विधानसभा में उद्धृत करते हुए कहा कि अंग्रेजी में लिखे इस पत्र का हिंदी में अनुवाद करा कर सदन को बताया जाए कि यह भ्रष्टाचार किसके लिए हो रहा है। पत्र पर संज्ञान नहीं लेने के बाद हेमंत समेत झामुमो के सभी विधायकों ने सदन का बहिष्कार किया।

नितिन कुलकर्णी ने सीएम को बताया तो उनका ट्रांसफर कर दिया: हेमंत सोरेन
विधानसभा के बाहर पत्रकारों को संबोधित करते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि टाटा प्रोजेक्ट लि. का जेबीवीएनएल के यहां 42 करोड़ पेमेंट बकाया है। राहुल पुरवार ने कमीशन के लिए फाइल दबा रखी है। मुख्य सचिव को मेल भेजे भी 48 दिन हो गए। तत्कालीन ऊर्जा सचिव नितिन मदन कुलकर्णी ने इस बारे में मुख्यमंत्री रघुवर दास को जानकारी दी, परंतु राहुल पुरवार पर कार्रवाई करने की जगह कुलकर्णी काे ही वहां से हटा दिया गया। हेमंत ने आरोप लगाया कि बड़े पैमाने पर सरकारी खजाने की लूट जारी है। सीएम को इन सारी चीजाें की जानकारी है। बावजूद इसके किसी पर कार्रवाई का न होना, यह बताता है कि अफसरों को धन उगाही के काम में लगाया गया है। राज्य सरकार को इस मेल की सच्चाई के बारे में बताना चाहिए।

सब कुछ क्लियर होने के बाद भी राहुल पुरवार नहीं कर रहे साइन
हेमंत सोरेन ने कहा- मेल में अविनाश कुमार ने लिखा है कि टेक्नीकल और फाइनांस विभाग से क्लियर होने के बावजूद राहुल पुरवार साइन नहीं कर रहे हैं। महीनों से उक्त फाइल उनकी टेबल पर पड़ी है। ठेके की कुल राशि का ढाई प्रतिशत मांगा जा रहा है। पीएम कहते हैं कि देश के सभी घरों में बिजली पहुंचानी है। हमने समय पर काम किया, पर पेमेंट नहीं किया जा रहा। कई बार राहुल पुरवार से मिल कर पेमेंट करने का आग्रह किया गया, पर कोई नतीजा नहीं निकला। यह भी आरोप लगाया गया है कि जो भी कांट्रेक्टर कमीशन नहीं देता है, उसका पेमेंट रोक दिया जाता है।

सीएम ऑफिस के साथ-साथ विभिन्न जांच एजेंसियों को शिकायत
जारी मेल में कहा गया है कि सितंबर 2018 को कंपनी की तरफ से मुख्यमंत्री कार्यालय और मुख्य सचिव को शिकायत की गई थी। कंपनी ने सीबीसी, सीबीआई और एसीबी से भी शिकायत की है। अब इस मामले को लेकर पीआईएल भी दायर किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments