Friday, September 17, 2021
Homeदिल्लीशिव का रूप धर ‘शिव’ का जलाभिषेक करने देवघर पहुंचे लालू के...

शिव का रूप धर ‘शिव’ का जलाभिषेक करने देवघर पहुंचे लालू के ‘लाल’ तेजप्रताप यादव

नई दिल्ली। अपने कारनामों की वजह से सुर्खियां बटोरने वाले लालू यादव के बड़े सुपुत्र तेजप्रताप यादव का एक और रूप इस सावन के पावन महीने में लोगों को देखने मिला। जब सुल्तागंज से जल भरकर वह शिव का रूप धारन कर बाबा बैद्यनाथ का जलाभिषेक करने देवघर की तरफ निकले।

रविवार को बाबा भोले का वेश धारण कर सुल्तानगंज पहुंचे। दोपहर बाद उन्होंने अपने सहयोगियों संग कई कांवरिया जत्थे के साथ पवित्र उत्तरवाहिनी गंगा तट पर स्नान कर गंगा जल भरा और गंगा पूजन के बाद सबसे पहले अपनी मां पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से विडियो कॉल कर आशीर्वाद लिया और जल संकल्प की हर गतिविधि विडियो कॉल के द्वारा मां को दिखाया। मां राबड़ी देवी ने भी बेटे को आशीर्वाद दिया।

रविवार को सुल्तानगंज के उत्तर वाहिनी गंगा में स्नान कर अपने समर्थकों के साथ वाहन मार्ग से देवघर के लिए प्रस्थान कर गए। शिव का रूप धरे तेज प्रताप कभी समर्थकों के साथ बस पर तो कभी अपने निजी वाहन से देवघर की ओर बढ़ रहे थे।

रविवार देर रात बांका के समीप जाम के कारण एक हिंदी न्यूज़ चैनल के पीसीआर वैन और गाड़ी ने तेज प्रताप के काफिले को ओवरटेक करना चाहा तभी तेज प्रताप के निजी सुरक्षाकर्मी और बाउंसर गाड़ी से उतरकर प्रेस गाड़ी के ड्राइवर को तमाचा जड़ दिया। जिसके बाद गाड़ी में मौजूद एक हिंदी न्यूज़ चैनल की दो महिला रिपोर्टर भड़क गईं।

इस दौरान उनके निजी सुरक्षाकर्मी और पत्रकारों के बीच काफी देर तक नोकझोंक होती रही। जिस वक्त ये सब हो रहा था। उस वक्त तेज प्रताप यादव बस में मौजूद थे । महिला रिपोर्टर के अनुसार तेजप्रताप यादव बस में मौजूद रहते हुए भी बीच-बचाव करने नहीं पहुंचे और दूसरे वाहन से निकल गए।

इतना ही नहीं सुल्तानगंज में संकल्प पूजन के बाद कांवर में गंगा जल भर कर तेजप्रताप यादव कुछ दूर पैदल चल कर फिर वाहन से देवघर के लिए रवाना हो गये। इस दौरान काफी संख्या में कांवरिया व आम लोगों ने तेजप्रताप के साथ सेल्फी लेने के लिए आतुर देखे गये। इसी भीड़भाड़ में तेजप्रताप के बाउंसर्स की लोगों के साथ कहा-सुनी भी हो गई। बात बढ़ी तो बाउंसर्स ने कुछ लोगों से मारपीट भी की, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है।

तेजप्रताप ने मीडियाकर्मियों से बातचीत में बताया कि कि मैं शिवभक्त हूं और बाबा वैद्यनाथ का पूजा करने आया हूं। मैं बस इतना ही कहूंगा कि आने वाले समय में बिहार में बड़ा बदलाव होगा। मीडिया के सवालों का तेजप्रताप ने बड़े ही भक्ति व निराले अंदाज में जवाब दिया।बातचीत के बाद वो बार-बार हाथ उठा कर जय बाबा भोलेनाथ कह रहे थे। इतना ही नहीं अपने निराले अंदाज में तेजप्रताप ने संकल्प पूजन के बाद भस्म नहीं मिलने पर दूसरे कांवरिया व पंडा से मांगकर भस्म को माथे पर लगा लिया।

तेज प्रताप यादव के साथ देवघर की इस यात्रा में छात्र राजद की पूरी टीम गई है। टीम में लगभग चार दर्जन कार्यकर्ता शामिल हैं। पूर्व मंत्री खुद अपनी गाड़ी से गये हैं। कार्यकर्ताओं की टीम एक बस से साथ चल रही थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments