Saturday, September 25, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशअनोखा मामला:तय वक्त पर हर दिन पान खाने दुकान पर पहुंचता है...

अनोखा मामला:तय वक्त पर हर दिन पान खाने दुकान पर पहुंचता है लंगूर, उसके इस कारनामे से खत्म हो गई इलाके की बड़ी समस्या

यह फोटो शाहजहांपुर की है। यहां सदर बाजार में एक लंगूर हर दिन तय दुकान पर तय समय पर पहुंचकर पान व बिस्कुट खाता है।
  • कोतवाली सदर बाजार क्षेत्र का मामला
  • लंगूर का हर लोग इंतजार करते रहते, नहीं पहुंचाता किसी को कोई नुकसान

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक लंगूर पान व बिस्कुट खाने का बड़ा शौकीन है। वह अपने तय वक्त पर थाने के पास स्थित दुकान पर पान खाने आता है। उसके आते ही दुकानदार हाथ में पान लेकर खड़े हो जाते हैं। चाय वाला उसे बिस्कुट खिलाता तो पनवाड़ी पान खिलाता है। दुकानदारों और स्थानीय लोगों को लंगूर से लगाव हो गया है। लंगूर के आने से स्थानीय लोगों की एक बड़ी समस्या का समाधान भी हो गया है। इस इलाके में बंदरों का आतंक था, लेकिन अब लंगूर के आने से उस समस्या से निजात भी मिल गई है।

लंगूर को बिस्कुट खिलाता स्थानीय शख्स।
लंगूर को बिस्कुट खिलाता स्थानीय शख्स।

शाम को साढ़े चार से पांच बजे के बीच आता है लंगूर

दरअसल, थाना सदर बाजार के बाहर अनु पान के खोखे पर दिन भर पान खाने वालों की भीड़ लगी रहती है। लेकिन शाम के वक्त भीड़ कम रहती है। करीब साढ़े चार बजे से 5 बजे के बीच हर दिन एक लंगूर बंदर कॉफी मशीन के सामने आकर बैठ जाता है। उसके बराबर में पान के खोखा चलाने वाले अनु उस बंदर के लिए पान निकालकर रखना शुरू कर देते हैं। हालांकि कभी पान के खोखे से उतरकर अनु खुद उस बंदर को पान खिलाते हैं या फिर खोखे के बाहर पान खाने आने वाले स्थानीय लोग पान लेकर खिलाते हैं। उसके बाद पप्पू चाय वाले बंदर को देखकर फौरन अपना काम छोड़कर उसे बिस्कुट खिलाने आते हैं। ये नजारा थाने के सामने से निकलने वाले राहगीरों के लिए दृश्य अजूबे जैसा होता है। लेकिन कुछ के लिए ये सब रोज एक जैसा होता है। स्थानीय लोग बंदर को पान और बिस्कुट खिलाना अपना दूसरा काम समझते हैं। इस घटनाक्रम का वीडियो भी सामने आया है।

कभी बंदरों का आतंक था इस क्षेत्र में

लोगों का कहना है कि इस इलाके में बंदरों का आतंक था। बंदर झुंड के साथ आते थे और जमकर उत्पात मचाते थे। लेकिन लंगूर के आने से लाल मुंह वाले बंदर अब दूर-दूर तक नही दिखते हैं। इस बंदर का लोग ख्याल रखते हैं। उसके आते ही अपना काम छोड़कर उसे खिलाने में जुट जाते हैं। अन्य दुकानदार भी उसको बिस्कुट खिलाते है। खास बात ये है कि, ये कभी नुकसान नही पहुंचाता है

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments