दरअसल, चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच अमेरिका की ओर से भारत को जल्द से जल्द MH-60-Romeo हेलिकॉप्टर की डिलिवरी का ऐलान किया गया है। हेलिकॉप्टर का निर्माण करने वाली कंपनी लॉकहीड मार्टिन के अधिकारी विलियम एल ब्लेयर ने दावा किया है कि अगले साल की शुरुआत में इसकी डिलिवरी कर दी जाएगी।  बता दें कि 24 हेलिकॉप्टरों की डील का ऐलान इसी साल फरवरी में किया गया था।

क्‍यों हैं खास ये हेलीकॉप्‍टर 

– पनडुब्बियों और पोतों पर अचूक निशाना लगाने की क्षमता वाला यह हेलिकॉप्टर समुद्र में तलाश एवं बचाव कार्यों में भी बेहद उपयोगी है।

– यह नावों को ट्रैक कर उनके हमलों को रोकने की क्षमता रखता है।

-MH-60 रोमियो हेलिकॉप्टर तमाम आधुनिक प्रणाली- सेंसर, मिसाइल और टॉरपीडो से लैस है।

– अमेरिकी नौसेना में इसे एंटी-सबमरीन और एंटी-सरफेस हथियार के तौर पर तैनात किया गया है।

– अमेरिकी नौसेना में इसे एंटी-सबमरीन और एंटी-सरफेस हथियार के तौर पर तैनात किया गया है।

-इसकी मदद से सतह रोधी और पनडुब्बी रोधी युद्ध मिशन होंगे सफल

-रॉयल ऑस्‍ट्रेलियाई नेवी समेत दुनियाभर की नौसेना में मौजूद है ये हेलीकॉप्‍टर