Thursday, September 23, 2021
Homeब्रेकिंग न्यूज़मप्र / साढ़े 3 बीघा जमीन को लेकर भिड़े दो पक्ष, एक तरफ...

मप्र / साढ़े 3 बीघा जमीन को लेकर भिड़े दो पक्ष, एक तरफ से पथराव तो दूसरी तरफ से हुई फायरिंग, 2 को गोली लगी, 13 घायल, 6 रैफर

  • हाईवे किनारे की जमीन के मालिकाना हक पर विवाद, दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज

ब्यावरा (राजगढ़) . दूधी के पास एबी रोड के किनारे की जमीन को लेकर कंजर अाैर धनगर समुदाय के लाेग अापस में भिड़ गए। विवाद इतना बढ़ा कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर जमकर पथराव किया। इसके बाद दूधी गांव के कंजर समुदाय के लोगों ने फायरिंग कर दी। इसमें सेमली गांव के धनगर समुदाय के एक ही परिवार की 5 महिलाओं सहित 13 लोग घायल हुए हैं। दो युवकों को गोली लगी है। रामगोपाल को दायीं ओर जांघ में और राहुल को बायीं बाह में गोली लगी। दोनों युवकों सहित छह गंभीर घायलों को भोपाल रैफर किया गया है। पथराव में करनवास थाने की जीप के शीशे भी फूट गए। पुलिस ने दोनों पक्षों की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है।

करनवास थाना प्रभारी मुकेश गौड़ ने बताया कि दूधी गांव के पास माधेपुरा के पास हाईवे किनारे गिट्‌टी क्रेशर के पास स्थित साढ़े 3 बीघा जमीन को करीब सालभर पहले बालकराम कंजर के परिवार ने रामप्रसाद अहिरवार से खरीदा था। इस जमीन पर धनगर समुदाय के कुछ लोग लंबे समय से खुद का कब्जा बताकर चारों तरफ नालियां बनाने रविवार सुबह करीब 11 बजे जेसीबी लेकर पहुंचे थे। जहां बालकराम कंजर के परिवार ने उक्त जमीन का सीमांकन नहीं होने से जेसीबी चलाने से मना किया तो धनगर समुदाय के लोगों ने कंजर समुदाय के लोगों पर पथराव कर उन्हें खदेड़कर भगा दिया। इसके बाद आए कंजर समुदाय के करीब 20 से 25 लोगों की भीड़ ने मौके पर आकर धनगर परिवार के लोगों के ऊपर सीधे बंदूकों से फायरिंग कर कर दी।
घायलों को भोपाल ले जाने के लिए नहीं मिली एम्बुलेंस : बड़ी संख्या में घायल अस्पताल पहुंचे ताे यहां वार्डबॉय तक नहीं थे। पुलिस कर्मी खुद स्ट्रेचर खींचकर घायलों को अंदर लेकर गए। अंदर जिस मायनर ओटी में सभी घायलों को ले जाया गया, वहां पंलग व स्ट्रेचर तक नहीं थे। ऐसे में कई महिलाओं व घायलों को जमीन पर गद्दे पटककर लेटाया गया। इतना ही नहीं ओटी के पंखे तक खराब पड़े थे। इस पर घायलों के परिजन भड़के तो डॉक्टरों ने अस्पताल के बड़े बाबू को तक फटकार लगा दी। वहीं घायलों को रेफर करने के लिए सिर्फ दो एम्बुलेंस मात्र थी, ऐसे में तीन घायलों को घायलों के परिवार के लोग मजबूरी में अपने निजी वाहनों से भोपाल रवाना हुए।

पथराव से पुलिस वाहन के कांच फूटे, आसपास के थानों का पुलिस बल भेजा : विवाद की सूचना पर करनवास थाने से थाना प्रभारी की जीप लेकर चार जवान मौके पहुंचे। दोनों तरफ से विवाद की शुरुआत में हुए पथराव में भीड़ ने पुलिस की जीप को भी निशाना बनाया। पथराव में इसके शीशे फूट गए। इसके बाद उक्त जवानों ने  वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दी तो आसपास के थानों का पुलिस बल भेजा गया। इसके बाद दूसरी तरफ से आए कंजरों ने  फायरिंग कर दी।

10 जुलाई को बारिश की वजह से अधूरा रह गया था सीमांकन, लौट गई थी राजस्व टीम : जिस जमीन को लेकर विवाद हुअा है उसका सीमांकन कराने के लिए 10 जुलाई को राजस्व की टीम पहुंची थी। जब सीमांकन किया जा रहा था, तभी बारिश शुरू हो गई थी। इसलिए सीमांकन रोकना पड़ गया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments