Sunday, September 19, 2021
Homeमध्य प्रदेशमध्यप्रदेश : आप खुश हैं या नहीं, यह जानने के लिए प्रदेश...

मध्यप्रदेश : आप खुश हैं या नहीं, यह जानने के लिए प्रदेश सरकार कराएगी ‘आनंद सर्वे’

इंदौर. आप खुश हैं या नहीं, यह जानने के लिए प्रदेश सरकार सर्वे कराएगी। यह सर्वे सितंबर से शुरू होकर मार्च 2020 तक चलेगा। इसमें आईआईटी खड़गपुर द्वारा तैयार की गई 30 सवालों की प्रश्नावली पूछी जाएगी। इसके आधार पर आपका हैप्पीनेस इंडेक्स तैयार किया जाएगा। इसमें सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों के व्यवहार, कामकाज से जुड़े सवाल भी पूछे जाएंगे कि आप इससे कितने खुश हैं? प्रदेश के अध्यात्म विभाग के तहत राज्य आनंद संस्थान यह सर्वे करेगा।

 

सरकार के कामकाज के साथ ही पुलिस के कार्य व्यवहार, स्थानीय प्रशासन पंचायत और नगरीय निकाय के कामकाज से संतुष्टि भी जानी जाएगी। सरकारी योजनाओं और भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाए गए कदमों के बारे में भी लोगों की राय जानी जाएगी। जनता से स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, स्वच्छता से जुड़ी योजनाओं के बारे में भी जानेंगे।

17 विषयों से संबंधित होंगे सवाल

इस फॉर्म में 17 क्षेत्रों से संबंधित सवाल होंगे। सरकार के कामकाज से लेकर आपकी निजी जिंदगी से जुड़ें भी कुछ सवाल होंगे। जिसमें व्यक्तिगत सकुशलता सूचकांक, संबंध, शासन एवं प्रशासन, पर्यावरण, स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा बोध, आय, अधोसरंचना, परिवहन, सामाजिक समावेशिता, सामाजिक और सांस्कृतिक जीवन, समय का उपयोग, जीवन में सार्थकता, लैंगिक समानता, स्वयं के जीवन में संतुष्टि और सकारात्मक-नकारात्मक भावनाओं का पैमाना।

यह सवाल पूछे जाएंगे 

  • 1. आप अपने जीवन स्तर, उपलब्धियों, शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवार और पड़ोसियों से कितने संतुष्ट हैं?
  • 2. मुसीबत के समय परिवार, रिश्तेदार, दोस्त, पड़ोसी और सहकर्मियों में से कौन काम आता है?
  • 3. आप अपने गांव, मोहल्ले या कार्यस्थल पर खुद को कितना सुरक्षित महसूस करते हैं?
  • 4. आप अपने 24 घंटे में सबसे ज्यादा समय किस काम को देते हैं, आजीविका, सोने में, घर के कामकाज में, अपनी रुचि के कामों को, परिवार के साथ, मित्रों और रिश्तेदारों के साथ, शारीरिक व्यायाम या खेलकूद, ध्यान, योग, सोशल मीडिया, इंटरनेट, मोबाइल, टीवी, धार्मिक कार्य को?
  • 5. आप अपने जीवन को कितना सार्थक मानते हैं? क्या आप जिस ढंग से जीवन जीना चाहते थे वैसे जी रहे हैं? आपके जीवन की परस्थितियां आदर्श हैं?
  • 6. आपको जीवन जीने का फिर से मौका मिले तो आप अपने जीवन में क्या बदलना चाहेंगे?
  • 7. लोगों से सकारात्मक और नकारात्मक भावनाओं का पैमाना भी पूछा जाएगा। इस सर्वे के बाद प्रदेश का हैप्पीनेस इंडेक्स तय होगा।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments