Sunday, September 19, 2021
Homeऑटोमोबाइलसेमीकंडक्टर्स की कमी से जूझ रही मारुति सुजुकी, इस महीने कारों के...

सेमीकंडक्टर्स की कमी से जूझ रही मारुति सुजुकी, इस महीने कारों के प्रोडक्शन में आएगी कमी

मारुति सुजुकी के गुजरात स्थित प्रोडक्शन प्लांट में सेमी कंडक्टर्स की कमी के चलते इस महीने प्रोडक्शन कम रहने वाला है। यह जानकारी मारुति सुजुकी की तरफ से साझा की गई है। आपको बता दें कि कंपनी की तरफ से ये जानकारी भी दी गई है कि अहमदाबाद स्थित प्लांट महीने के तीन शनिवारों – 7, 14 और 21 अगस्त को अस्थायी रूप से प्रोडक्शन नहीं करेगा।

आपको बता दें कि मारुति सुजुकी की तरफ से ये जानकारी भी दी गई है कि अहमदाबाद स्थित प्लांट महीने के तीन शनिवारों – 7 14 और 21 अगस्त को अस्थायी रूप से प्रोडक्शन नहीं करेगा। सेमीकंडक्टर्स की कमी की वजह से ये फैसला लिया गया है

इतना ही नहीं प्रोडक्शन लाइन में दो शिफ्ट की जगह पर एक ही शिफ्ट में काम किया जाएगा जिससे उत्पादन पर सीधा प्रभाव पड़ेगा। यह जानकारी भी मारुति सुजुकी इंडिया की तरफ से साझा की गई है। आपको बता दें कि जिन सेमीकंडक्टर्स की कमी के चलते कंपनी के प्रोडक्शन प्लांट प्रभावित हुए हैं वो असल में सिलिकॉन चिप्स होते हैं जो ऑटोमोबाइल, कंप्यूटर और सेलफोन से लेकर कई अन्य इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स में इस्तेमाल किए जाते हैं जो प्रोडक्ट्स में में नियंत्रण और मेमोरी कार्यों को पूरा करते हैं।

ऑटो उद्योग में सेमीकंडक्टर्स का उपयोग हाल के दिनों में वैश्विक स्तर पर बढ़ गया है क्योंकि नए मॉडल अधिक से अधिक इलेक्ट्रॉनिक फीचर्स के साथ मार्केट में लॉन्च किए जा रहे हैं जिनमें ब्लूटूथ कनेक्टिविटी और ड्राइवर-असिस्ट, नेविगेशन और हाइब्रिड-इलेक्ट्रिक सिस्टम शामिल हैं। कोई कार जितनी ज्यादा हाईटेक होगी उसमें उतने ही ज्यादा सेमीकंडक्टर्स का इस्तेमाल किया जाएगा, हालांकि इनकी डिमांड अचानक से बढ़ने की वजह से कई कंपनियों के पास इनकी कमी हो गई है क्योंकि सेमीकंडक्टर्स निर्माता इनकी आपूर्ति सुचारु ढंग से नहीं कर पा रही हैं

मारुति सुजुकी के अलावा, एमजी मोटर, निसान, टाटा मोटर्स और महिंद्रा सहित कई अन्य कार निर्माताओं ने उत्पादन को प्रभावित करने वाले चिप संकट के बारे में चेतावनी दी है।

टाटा मोटर्स ने हाल ही में जानकारी दी थी कि उसने वैश्विक सेमीकंडक्टर की कमी से निपटने के लिए विभिन्न उपायों की योजना बनाई है, जिसने इसके उत्पादन को प्रभावित किया है। उपायों में इसके उत्पाद विन्यास में बदलाव करना और स्टॉकिस्टों से सीधे चिप्स खरीदना शामिल है। कार निर्माता उन घटकों में विभिन्न प्रकार के चिप्स का उपयोग करना चाहता है जहां आपूर्ति सबसे अधिक प्रभावित होती है। कंपनी को उम्मीद है कि चालू तिमाही में आपूर्ति की स्थिति चुनौतीपूर्ण बनी रहेगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments