Thursday, September 23, 2021
Homeविश्वफिलिस्तीन के समर्थन में कतर में सामूहिक प्रदर्शन, गाजा पट्टी में इजरायली...

फिलिस्तीन के समर्थन में कतर में सामूहिक प्रदर्शन, गाजा पट्टी में इजरायली हमलों की समाप्ती की मांग

शनिवार को फिलिस्तीन के समर्थन में कतर में एक सामूहिक प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कोविड प्रतिबंधों का भी जमकर उल्लंघन हुआ। समाचार एजेंसी स्पुतनिक के मुताबिक, सैकड़ों लोगों ने राजधानी दोहा, उपनगरों और राष्ट्रीय मस्जिद इमाम मुहम्मद इब्न अब्द अल-वहाब मस्जिद के मुख्य चौक पर जमा होकर फिलिस्तीन के हक के लिए आवाज उठाई। प्रदर्शनकारी गाजा पट्टी में इजरायल के हमलों को समाप्त करने की मांग कर रहे थे और पूर्वी यरुशलम में फिलिस्तीनी परिवारों को वहां से निकालने का विरोध कर रहे थे।

इस प्रदर्शन में हमस प्रमुख इस्माइल हनीयेह समेत हमस के सदस्यों ने भी हिस्सा लिया। हनीयेह ने दोहा में प्रदर्शनकारियों से कहा कि हमस ने बार-बार इजरायल को चेतावनी दी थी कि वह यरुशलम में अल-अक्सा मस्जिद को छुए नहीं क्योंकि यह फिलिस्तीनियों के लिए रेड लाइन होगी।

कतर में शनिवार को हुए इस प्रदर्शन में हमस प्रमुख इस्माइल हनीयेह समेत हमस के सदस्यों ने भी हिस्सा लिया। हनीयेह ने दोहा में प्रदर्शनकारियों से कहा कि हमस ने बार-बार इजरायल को चेतावनी दी थी कि वह यरुशलम में अल-अक्सा मस्जिद को छुए नहीं क्योंकि यह फिलिस्तीनियों के लिए रेड लाइन होगी। हमस नेता ने इजरायल के हमलों के दौरान घायल हुए फिलिस्तीनियों के इलाज में सहायता के लिए मिस्र, जॉर्डन और लेबनान का धन्यवाद किया।

बता दें कि इजरायल और फिलिस्तीन के बीच संघर्ष में तेजी इस महीने आई है। इजरायल और फिलिस्तीनी गाजा पट्टी के बीच सीमा पर पिछले एक हफ्ते से हालात बिगड़े हुए हैं। इजरायली सेना ने शनिवार को कहा कि पिछले दिनों गाजा से इजरायल की ओर कुल 2,800 रॉकेट दागे थे, जिसमें से 430 प्रोजेक्टाइल गाजा पट्टी के भीतर गिरे थे। इजरायली सेना का कहना है कि उसने गाजा पट्टी में 672 से अधिक सैन्य ठिकानों पर हमले शुरू किए हैं। रॉकेट हमलों के दौरान इजरायल में कई नागरिकों की मौत की खबर है। इस बीच, फिलिस्तीन में 140 से अधिक मौतें हुई हैं, जिनमें 40 से अधिक बच्चे शामिल हैं। फिलिस्तीनी रेड क्रिसेंट के अनुसार, इजरायल के साथ तनाव के बीच 1,300 से अधिक फिलिस्तीनी घायल हुए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments