Tuesday, September 28, 2021
Homeचंडीगढ़विदेशी मेहमान : दिसंबर में पीक पर होता है माइग्रेटरी बर्ड्स का...

विदेशी मेहमान : दिसंबर में पीक पर होता है माइग्रेटरी बर्ड्स का आवागमन; अब तक माइग्रेंट डक की 12 तो माइग्रेंट गीज की देखी गईं दो स्पीशेज

यहां सेंट्रल एशिया, यूरोप, जापान, हिमालय सहित पूरे विश्व से माइग्रेटरी बर्ड आते हैं।
  • 2008 में जहां 600-700 डक्स आती थीं,वहीं अब ये गिनती घटकर 400 के करीब रह गई है

 चंडीगढ़ की सुखना लेक के रेगुलेट्री एंड पर दिसंबर में माइग्रेटरी बर्ड्स का आवागमन पीक पर होता है। बर्डर्स इस मौके की तलाश में इसलिए ज्यादा होते हैं क्योंकि इस वक्त उन्हें माइग्रेटरी बर्ड्स की वेरायटी क्लिक करने के लिए मिलती हैं जिसका वह महीनों से इंतजार कर रहे होते हैं। लेकिन पिछले कुछ सालों में माइग्रेटरी बर्ड्स का आवागमन यहां कम हुआ है।

इस पर चंडीगढ़ बर्ड क्लब की सेक्रेटरी रीमा ढिल्लों बताती हैं कि 2008 में जहां 600-700 डक्स आती थीं,वहीं अब ये गिनती घटकर 400 के करीब रह गई है।उन्होंने बताया कि सुखना लेक की गाद निकालने के बाद से ही यहां माइग्रेटरी बर्ड्स कम आ रहे हैं। वो इसलिए क्योंकि फीडिंग के लिए बर्ड्स कम पानी प्रेफर करते हैं। इनके पास अब यहां खाने के स्त्रोत और फीलिंग ऑफ सिक्योरिटी कम है।

पीजीआई चंडीगढ़ में फिजियोथैरेपी विभाग में तैनात डॉ. उपेंद्र गोस्वामी पिछले तीन साल से सुखना लेक और सिटी फॉरेस्ट एरिया में जाकर बर्ड फोटोग्राफी कर रहे हैं। बताते हैं कि मिड नवंबर में माइग्रेटरी बर्ड्स आना शुरू हो जाते हैं और 30 मार्च तक रहते हैं। वे बताते हैं कि शुरुआत में आने वाले बर्ड्स में कॉमन पोचार्ड, यूरेशियन कूट शामिल हैं और इनके बाद रड्‌डी शलडेक,नॉर्दर्न पिंटेल आने लगते हैं। उन्होंने बताया कि इस बार सुखना लेक पर डार्टर आना शुरू हो गए हैं। वे बताते हैं कि माइग्रेटरी बर्ड्स को शूट करने के लिए धैर्य होना जरूरी है। टेक्निकल एंगल से बात करें तो 100 से 400 एमएम का टेलिस्कोपिक ही माइग्रेटरी बर्ड्स की बढ़िया फोटोग्राफी कर सकता है क्योंकि ये बर्ड्स 10 से 15 सेकेंड ही देते हैं पिक्चर क्लिक करने के लिए।

सुखना लेक पर ओरिएंटल डार्टर
सुखना लेक पर ओरिएंटल डार्टर
फिश पकड़ती ग्रेट कॉर्मोरेंट
फिश पकड़ती ग्रेट कॉर्मोरेंट
उड़ान भरते नॉर्दर्न पिंटेल।
उड़ान भरते नॉर्दर्न पिंटेल।

वहीं प्राइवेट जॉब करने वाले दलविंदर सिंह कहते हैं कि वह पिछले तीन साल से माइग्रेटरी बर्ड्स की फोटोग्राफी कर रहे हैं। बोले, इन गेस्ट्स को क्लिक करने में काफी मजा आता है। जिन्हें क्लिक करते हैं, उनके बारे में पढ़ते भी हैं और फिर एक अच्छी नॉलेज भी मिलती है। उन्होंने बताया कि उन्हें ज्यादा दिलचस्पी माइग्रेटरी बर्ड्स के फ्लाइंग शॉर्ट्स लेने की होती है।

धनास लेक पर कॉमन पोचार्ड
धनास लेक पर कॉमन पोचार्ड
धनास लेक पर टफ्टिड डक
धनास लेक पर टफ्टिड डक

इसी तरह चंडीगढ़ प्रशासन के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट में एसडीओ ललित मोहन बताते हैं कि उन्हें माइग्रेटरी बर्ड्स को क्लिक करना ज्यादा अच्छा लगता है। वे बॉटेनिकल गार्ड्न,धनास लेक और सुखना लेक भी इन्हें क्लिक करने जाते हैं। बोले ये बर्ड्स कलरफुल होते हैं। सबसे अच्छी बात ये है कि ये शांतिप्रिय होते हैं। इन्हें क्लिक करने के लिए भी पेशेंस की जरूरत है। वे मॉर्निंग वॉक के समय इन्हें क्लिक करते हैं। इस सीजन में अब तक वे 15 से 20 स्पीेशेज को क्लिक कर चुके हैं।

इस सीजन में अब तक देखे गए ये

रीमा ढिल्लों ने बताया कि हर साल 12 नवंबर को सेंसस होता है। उसके मुताबिक इस सीजन में अब तक चंडीगढ़ में माइग्रेंट डक की 12 स्पीशेज देखी गई हैं जिनमें कॉमन पोचार्ड, टफ्टिड डक,फेरुजीनियस डक,रेड क्रेस्टिड पोचार्ड, रड्‌डी शेल्डक,ग्रीन विंग्ड टील, गैडवाल,गार्गाने,नॉर्दर्न शॉवील्ड,नॉर्दर्न पिंटेल, मालार्ड, यूरेशियन विजन शामिल हैं। वहीं माइग्रेंट गीज की दो स्पीेशेज को स्पॉट किया गया है जिनमें बार हेडेड गूज और ग्रेलाग शामिल हैं। उन्होंने बताया कि यहां सेंट्रल एशिया, यूरोप, जापान, हिमालय सहित पूरे विश्व से माइग्रेटरी बर्ड आते हैं। सुबह 7 से 10 बजे तक किए गए सर्वे के मुताबिक एक साल के सर्व में जल पक्षियों की 34 प्रजातियां दर्ज की गईं और तो पंखों वाले पक्षियों की गिनती 429 रही।

माइग्रेटरी बर्ड्स काउंट

  • 2020 में जलपक्षियों की 34 प्रजातियां दर्ज की गईं और तो पंखों वाले पक्षियों की गिनती 429 रही
  • 2019 में जलपक्षियों की 33 प्रजातियां दर्ज की गईं और तो पंखों वाले पक्षियों की गिनती 620 रही
  • 2018 में में जलपक्षियों की 31 प्रजातियां दर्ज की गईं और तो पंखों वाले पक्षियों की गिनती 417 रही
  • 2017 में जलपक्षियों की 28 प्रजातियां दर्ज की गईं और तो पंखों वाले पक्षियों की गिनती 717 रही

2020 का सर्वे

  • रड्डी शेलडक का काउंट 141
  • ग्रेट कार्मोरेंट का काउंट 47
  • इंडियन स्पॉट बिल्ड डक का काउंट 40
  • यूरेशियन कूट का काउंट 27
  • ब्लैक विंग्स स्टिल्ट का काउंट 23
  • नॉर्दर्न पिंटेल का काउंट 23
  • लिटल कार्मोरेंट का काउंट 15
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments