Friday, September 17, 2021
Homeबिहारराहत के नाम पर मंत्रीजी बन जाएंगे आफत

राहत के नाम पर मंत्रीजी बन जाएंगे आफत

बाढ़ में राहत बांटने वालों से सावधान रहें। मदद के लिए भीड़ के साथ पहुंच रहे मददगार कोरोना बांट देंगे। राहत के नाम पर संक्रमण का खतरा ऐसे लोगों से हैं, जिन पर जनता की सुरक्षा का जिम्मा है। बाढ़ राहत सामग्री के साथ प्रभावित इलाकों में पहुंचे विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार सरकार के मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री मुकेश सहनी भी इनमें से एक हैं। बिना मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग का नियम तोड़कर वह भीड़ के साथ पहुंच रहे हैं।

कोरोना गाइडलाइन को भूल राहत सामग्री बांटते मंत्री मुकेश सहनी।
कोरोना गाइडलाइन को भूल राहत सामग्री बांटते मंत्री मुकेश सहनी।

भीड़ के साथ दीघा पहुंचे मंत्री, किसी के चेहरे पर मास्क नहीं

मंत्री मुकेश सहनी लोगों की सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं हैं। वह मंगलवार को दीघा क्षेत्र में भारी भीड़ के साथ राहत सामग्री लेकर पहुंचे। भीड़ में शामिल लोगों के चेहरे पर मास्क नहीं था। वह खुद भी बिना मास्क के थे। मंत्री को राहत सामग्री के साथ मदद मांगने वालों की भीड़ लग गई। मंत्री मुकेश सहनी भीड़ में ही लोगों को राहत सामग्री बांटते रहे। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का जरा भी ध्यान नहीं दिया।

बच्चों की जुट गई भीड़, मंत्री कोरोना से बेपरवाह

बिना मास्क के पहुंचे मंत्री मुकेश सहनी के काफिले को देख दीघा क्षेत्र के लोगों के साथ अधिक संख्या में बच्चे इकट्‌ठा हो गए। कोरोना काल में बच्चों पर सबसे अधिक खतरा है। ऐसे में बच्चों की सुरक्षा को लेकर भी मंत्री ने ध्यान नहीं दिया। ऐसी ही लापरवाही से बच्चों में संक्रमण फैल सकता है। विकासशील इंसान पार्टी द्वारा बाढ़ पीड़ितो के बीच बांटी गई राहत सामग्री लोगों के लिए आफत बन सकती है।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में खतरा अधिक

बाढ़ प्रभावित इलाकों में कोरोना का अधिक खतरा है। बाढ़ के कारण प्रभावित लोगों में कोरोना की जांच बढ़ा दी गई है और वैक्सीनेशन भी किया जा रहा है। लेकिन नेताओं का भीड़ के साथ बिना मास्क के राहत बांटने के लिए पहुंचना खतरनाक हो सकता है। मंत्री को दौरा करना चाहिए जिससे लोगों को मदद मिले। लेकिन सुरक्षा और संक्रमण के बचाव को लेकर भी ध्यान रखना चाहिए। जब एक्सपर्ट मास्क और सोशल डिस्टेंस की बात कर रहे हैं तो मंत्री और समर्थक इसका पालन क्यों नहीं कर रहे, यह बड़ा सवाल है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments