दुष्कर्म : जैतारण में स्कूली बच्ची का दिनदहाड़े अपहरण, जंगल में गैंगरेप किया, पुलिस ने आरोपियों को चार घंटे में दबोचा

0
47

जैतारण/पाली. जैतारण में शनिवार को बाजार में मोबाइल ठीक कराने आई एक नाबालिग स्कूली बच्ची का दिनदहाड़े अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप करने का मामला सामने आया है। आरोपियों ने बाइक पर अगवा करने के बाद बालिका के साथ जंगल में सामूहिक दुष्कर्म किया। आरोपियों के चंगुल से छूटने के बाद पीड़िता घर जाकर गुमसुम हो गई। रात में पिता को पूरी घटना बताने के बाद रविवार को आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट आते ही पुलिस अधिकारी हरकत में आ गए। कई टीमों ने ताबड़तोड़ दबिश देकर दो युवकों को अलग-अलग स्थानों पर दबिश देकर पकड़ लिया, वहीं तीसरा आराेपी नाबालिग हाेने पर उसे संरक्षण में लिया गया है।

आरोपियों से घटनाक्रम को लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस के अनुसार हाल ही में दसवीं कक्षा पास करने वाली एक किशोरी शनिवार दोपहर में अपनी बहन का मोबाइल खराब होने पर उसे ठीक कराने बाजार में एक दुकान पर आई थी। वह वापस घर जा रही थी तभी तालकिया चौराहे पर बाइक से पहुंचे तीन जनाें ने बाइक उसके आगे खड़ी कर उसे रोक लिया। बाद में आरोपियों ने उसे जबरन बाइक पर बिठाकर बांझाकुड़ी रोड पर सुनसान जगह पर झाड़ियों में ले जाकर दुष्कर्म किया। आरोपी उसे छोड़कर चले गए थे।

पीड़िता ने दिनभर घर जाकर अपने साथ हुई शर्मनाक घटना के बारे में किसी काे कुछ नहीं बताया और गुमसुम ही रही। रात में उसे रोते देखकर पिता ने पूछा तो उसने पूरा घटनाक्रम बताया। रविवार काे इस बारे में पिता के रिपोर्ट देने के बाद पुलिस ने पोक्सो एक्ट में मामला दर्ज कर लिया। एसपी आनंद शर्मा ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दिए। जैतारण डीएसपी सुरेश कुमार ने बताया कि थाना प्रभारी रविंद्रसिंह खींची के निर्देशन में गठित टीमों ने 4 घंटे में ही आरोपियों को पकड़ लिया। पुलिस ने कुंदन उर्फ लादेन (19) पुत्र अशोक बाकोलिया निवासी रैगरों का मोहल्ला जैतारण कमलेश (19) पुत्र बख्ताराम रेगर निवासी रामदेव मंदिर के पास जैतारण को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही एक बाल अपचारी को भी संरक्षण में लिया है।

देर रात पिता को बताई आपबीती 
बताया जाता है कि पीड़ित बच्ची के माता-पिता शनिवार को अपने रिश्तेदार के अस्पताल में भर्ती होने पर उसकी कुशलक्षेम पूछने गए थे। पीछे घर पर दोनों बहनें अकेली थीं। एक बहन का मोबाइल खराब होने पर पीड़िता उसे ठीक कराने बाजार गई थी, वहां से वह वापस घर जा रही थी तभी तीनों ने उसे रास्ते में ही रोक लिया। एक युवक ने उसे जबरन पकड़कर बाइक पर बीच में बिठा दिया। पीड़िता के चिल्लाने के बाद एक युवक ने उसके मुंह पर हाथ रख दिया। बाद में उसे सुनसान स्थान पर झाड़ियों में लेकर तीनों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। घर आने के बाद वह गुमसुम रही। रात में पीड़िता अपने पिता को पूरी आपबीती बताई ताे रविवार सुबह पिता ने जैतारण थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here