Tuesday, September 28, 2021
Homeमहाराष्ट्रमुंबई : ताऊ ते; मुंबई में अगले कुछ घंटे 120 kmph की...

मुंबई : ताऊ ते; मुंबई में अगले कुछ घंटे 120 kmph की रफ्तार से चलेंगी हवाएं; महाराष्ट्र में अब तक 5 लोगों की हुई मौत

चक्रवाती तूफान ताऊ ते मुंबई को टच करता हुआ गुजरात की ओर बढ़ गया है। मौसम विभाग ने अगले कुछ घंटों के दौरान यहां भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इस दौरान 120 किमी/घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अंदेशा है। इस बीच मुंबई से सटे रायगढ़ में इस तूफान की वजह से 2 लोगों और सिंधुदुर्ग जिले में एक शख्स की मौत हुई है। इससे पहले जलगांव में भी दो बहनों की जान चली गई थी।

दोपहर 3.31 बजे यहां समुद्र में हाईटाइड की चेतावनी जारी की गई थी। कई जगहों पर वाटर लॉगिंग (पानी भरना) की समस्या देखने को मिल रही है। मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर खुद सड़क पर उतारकर स्थिति का जायजा ले रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी CM उद्धव ठाकरे से बात की है।

मुंबई में कोरोना वैक्सीनेशन रोका गया है और कोरोना मरीजों को दूसरी जगहों पर शिफ्ट किया गया है। एयरपोर्ट भी शाम 6 बजे तक बंद रहेगा। मुंबई का वर्ली सी लिंक भी बंद किया गया है। समुद्र में हाईटाइड के दौरान 10 से 13 फीट ऊंची लहरें देखने को मिली हैं। मुंबई के अलावा रायगढ़, सिंधुदुर्ग, पालघर और ठाणे में भी वैक्सीनेशन नहीं होगा। यहां भी कोरोना मरीज शिफ्ट किए गए हैं। मौसम विभाग ने मुंबई, रायगढ़, सिंधुदुर्ग, पालघर और ठाणे में अलर्ट जारी किया है।

मुंबई में NDRF की तीन टीमों को तैनात किया गया है और 5 टीमें अलर्ट पर हैं। 5 जगह अस्थाई शेल्टर होम बनाए गए हैं। शहर के दादर, वर्ली, लोअर परेल, माटुंगा और माहिम सहित मुंबई के पश्चिमी उपनगरीय इलाकों में भारी बारिश हो रही है। मुंबई में वर्ली सी फेस, शिवाजी पार्क, मरीन ड्राइव पर समुद्र तट पर ऊंची लहरें उठ रही हैं।

मुंबई के समुद्र में 10-13 फीट ऊंची लहरें

ताऊ ते चक्रवाती तूफान के चलते सोमवार की भोर में 2.23 बजे समुद्र में हाई-टाईड के वक्त करीब 10.99 फीट, फिर सुबह 8.24 बजे लो-टाइड के वक्त 3.28 फीट ऊंची लहरे उठीं। मौसम विभाग के अनुसार दोपहर 3.31 मिनट पर आने वाले हाई-टाइड के वक्त समुद्र में 13.26 फीट ऊंची और रात 9.37 मिनट पर होने वाले ले-टाइड के वक्त 6.79 फीट ऊंची लहरें उठने वाली हैं।

तूफान लगातार गुजरात की ओर बढ़ रहा है। हालांकि, इसका असर मुंबई में भी देखा जा रहा है।
तूफान लगातार गुजरात की ओर बढ़ रहा है। हालांकि, इसका असर मुंबई में भी देखा जा रहा है।

तूफान से जुड़े जरूरी अपडेट्स…

रत्नागिरी जिले के सिविल अस्पताल में भारी बारिश के चलते पानी भर गया। इस जिले से अब तक 3,896 लोगों को सुरक्षित स्थान पर भेजा गया है।

मुंबई के घाट स्टेशन और नित्यानंद नगर के बीच एक लोकल ट्रेन पर गिरा पेड़।

महाराष्ट्र में समुद्र तट से लगे जिलों से 12,420 लोगों को सुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित किए जाने की जानकारी आपदा व्यवस्थापन विभाग ने दी है।

मुंबई महानगर पालिका के मुताबिक सुबह 8.30 बजे तक कुलाबा में 17.4 मिमी, सांताक्रूज में 11.9 मिमी बारिश पिछले 24 घंटे में(रविवार सुबह 8.30 बसे से सोमवार सुबह 8.30 बजे तक) दर्ज हुई।

BMC ने फील्ड कोविड सेंटरों के मरीजों को दूसरे अस्पतालों में पहुंचा दिया है।

मुंबई के रायगड जिले में रेड अलर्ट और कोंकण के अन्य जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

मुंबई के बीकेसी जम्बो कोविड सेंटर को ताऊते चक्रवाती तूफान की वजह से तेज चली हवाओं से कोई नुकसान नहीं हुआ है।

स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंटर अथॉरिटी से मिली जानकारी के मुताबिक, राज्य के तीन तटीय जिलों में 6,500 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया है।

रत्नागिरी में 3,896, सिंधुदुर्ग में 144 और रायगढ़ में 2,500 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। मुंबई, रायगढ़, अलीबाग, रत्नागिरी और पालघर जिलों की सभी नौकाएं समुद्र से लौट आई हैं।

तूफान के महाराष्ट्र के रत्नागिरी तट से टकराने के बाद वहां 40 घरों को भारी नुकसान पहुंचा है। सैकड़ों पेड़ उखड़ गए। 3 स्कूल पूरी तरह से ध्वस्त हो गए हैं।

जलगांव में झोपड़ी पर पेड़ गिरने से 17 और 12 साल की दो बहनों की मौत हो गई।

मुंबई से वसई-विरार के कई इलाकों में सुबह से ही भारी बारिश हो रही है।

पुणे के भोरगिरी और भिवेगांव में 70 घरों को नुकसान पहुंचा है।

मुंबई नगर निगम के आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष के कर्मचारी तूफान पर नजर रखे हुए हैं।
मुंबई नगर निगम के आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष के कर्मचारी तूफान पर नजर रखे हुए हैं।

CM उद्धव ने की गृहमंत्री शाह से बात

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बताया कि मुंबई और राज्य के अन्य तटीय जिलों में अस्थाई रूप से स्थापित किए गए फील्ड अस्पताल से मरीजों को सुरक्षित अस्पतालों में शिफ्ट किया गया है। अस्पतालों में बिजली और ऑक्सीजन बैकअप की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। संभावित तूफान की चपेट में आने वाले जिलों में 12-16 घंटे का ऑक्सीजन बैकअप सुनिश्चित करने का इंतजाम करने के लिए कहा गया है।

मुंबई के सभी तटों पर BMC ने गोताखोरों की टीम तैनात की है।
मुंबई के सभी तटों पर BMC ने गोताखोरों की टीम तैनात की है।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य में दवाओं का पर्याप्त स्टॉक रखा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए सभी कदम उठाए गए हैं कि तटीय इलाकों में ऑक्सीजन का उत्पादन तथा राज्य के बाकी हिस्सों में उसकी ढुलाई प्रभावित न हो।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments