Tuesday, September 28, 2021
Homeदेशनागरिकता कानून : मुस्लिम-लेफ्ट संगठनों का बंद; बिहार में ट्रेनें रोकी गईं,...

नागरिकता कानून : मुस्लिम-लेफ्ट संगठनों का बंद; बिहार में ट्रेनें रोकी गईं, बेंगलुरु में रामचंद्र गुहा और दिल्ली में संदीप दीक्षित हिरासत में लिए गए

नई दिल्ली. नागरिकता कानून के विरोध में गुरुवार को वामदलों और मुस्लिम संगठनों ने कर्नाटक, बिहार समेत देश के अन्य राज्यों में बंद बुलाया। इस दौरान बिहार के पटना, दरभंगा समेत कई शहरों में माकपा कार्यकर्ताओं ने रेलवे ट्रैक जाम कर दिया। उधर, दिल्ली में धारा 144 के बावजूद प्रदर्शन करने वाले कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित समेत कई लोग हिरासत में लिए गए। डीएमआरसी ने एहतियातन राजधानी के 7 मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए हैं। कर्नाटक में तीन दिन (21 दिसंबर रात तक) धारा 144 लागू रहेगी। बेंगलुरु में प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने इतिहासकार रामचंद्र गुहा को हिरासत में ले लिया।

दिल्ली में लालकिला के आसपास धारा 144 लागू होने के बावजूद भीड़ जुटी।

अपडेट्स

दिल्ली: लालकिला के आसपास धारा 144 लगाई गई। इसके बावजूद भारी संख्या में प्रदर्शनकारी यहां जमा हो गए। पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया। प्रदर्शन के मद्देनजर डीएमआरसी ने पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग, उद्योग भवन, आईटीओ, प्रगति मैदान, खान मार्केट और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन बंद किए। माकपा के प्रदर्शनकारियों को मंडी हाउस से जंतर मंतर ले जाया गया। पुलिस की बेरिकेडिंग के कारण दिल्ली-गुड़गांव एक्सप्रेसवे पर लंबा जाम लगा। जामिया और सीलमपुर में हिंसक प्रदर्शन के बाद पुलिस ने संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च किया।

बिहार के पटना में माकपा कार्यकर्ताओं ने रेलवे ट्रैक जाम किया।

बिहार: नागरिकता कानून के खिलाफ बंद में प्रदेश के कई शहरों में प्रदर्शन हुआ। माकपा कार्यकर्ताओं ने पटना, दरभंगा और खगड़िया में ट्रेनें रोकीं और हाईवे जाम कर दिए। बंद के मद्देनजर पटना जंक्शन, राजेंद्र नगर टर्मिनल समेत बिहार के सभी स्टेशनों पर सुरक्षा चाक-चौबंद है। पटना के सभी स्कूलों की छुट्टी कर दी गई। इस बंद को कांग्रेस, रालोसपा और अन्य दलों ने समर्थन दिया है।

दिल्ली के मंडी हाउस पर जुटे माकपा कार्यकर्ताओं को पुलिस जंतर मंतर ले गई।

कर्नाटक: कलबुर्गी में लेफ्ट और मुस्लिम संगठनों ने काले झंडे दिखाकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने 20 लोगों को हिरासत में लिया। बेंगलुरु में प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने इतिहासकार रामचंद्र गुहा को हिरासत में लिया। राज्य में बंद के चलते पुलिस मुस्तैद है। बेंगलुरु, कलबुर्गी, दक्षिण कन्नड़ और उसके आसपास के जिलों में अगले तीन दिन (21 दिसंबर रात तक) धारा 144 लागू रहेगी। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा- इस प्रदर्शन और बंद के पीछे कांग्रेस का हाथ है। उनके नेता प्रदर्शन को सपोर्ट कर रहे हैं। मुस्लिमों की जिम्मेदारी भी मुझ पर है। मैं सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं।

चंडीगढ़ में नागरिकता कानून के विरोध में व्यापक प्रदर्शन हुआ।

महाराष्ट्र: मुंबई के अगस्त क्रांति मैदान में 4 बजे से प्रदर्शन होगा। इसमें अभिनेत्री स्वरा भास्कर, अभिनेता फरहान अख्तर के शामिल होने की चर्चा है। इसके अलावा मालेगांव, नासिक, जलगांव और मनमांड और अमरावती में भी बंद बुलाया गया है। इससे पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधियों से चर्चा की। उन्होंने नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की।

कर्नाटक के बेंगलुरु में बंद के चलते पुलिस मुस्तैद।

उत्तर प्रदेश: सुरक्षा के मद्देनजर सभी जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है। एहतियातन 3 हजार लोगों को पाबंद किया गया है। पुलिस ने 65 लोगों को गिरफ्तार किया है। लखनऊ में विधानसभा के पास एक मेट्रो स्टेशन को बंद किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments