Friday, September 17, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशजामा मस्जिद में राष्‍ट्रीय ध्‍वज का अपमान, आगरा में शहर मुफ्ती के...

जामा मस्जिद में राष्‍ट्रीय ध्‍वज का अपमान, आगरा में शहर मुफ्ती के खिलाफ मुकदमा दर्ज

स्‍वतंत्रता दिवस पर आगरा की जामा मस्जिद में ध्‍वजारोहण को हराम बताने वाले शहर मुफ्ती के खिलाफ कार्रवाई हो गई है। मुस्लिम तथा हिंदू संगठन, दोनों ही इसके खिलाफ आवाज उठा रहे थे। एसएसपी ने इस मामले में जांच कराई और आरोप सही पाए जाने पर बुधवार सुबह थाना मंटोला में मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। यह मुकदमा इस्‍लामिया लोकल एजेंसी से मिली तहरीर के आधार पर दर्ज हुआ है।

स्‍वतंत्रता दिवस पर जामा मस्जिद में ध्‍वजारोहण को आगरा के शहर मुफ्ती ने बताया था हराम। जांच के बाद एसएसपी के आदेश पर थाना मंटोला में कराया गया है मुकदमा दर्ज। इस्‍लामिया लोकल एजेंसी के अध्‍यक्ष को सुरक्षा के लिए मुहैया कराया गया है गनर।

स्वतंत्रता दिवस पर जामा मस्जिद में ध्वजारोहण को हराम बताने पर शहर मुफ़्ती खुबैब रूमी के खिलाफ मंटोला थाने में बुधवार सुबह मुकदमा दर्ज हो गया है। इस्लामियां लोकल कमेटी के अध्यक्ष असलम कुरैशी की तहरीर पर ये कार्रवाई हुई है। साथ ही असलम कुरैशी ने शहर मुफ्ती से अपनी जान को खतरा बताया था। इस पर असलम कुरैशी को मंटोला थाने से एक गनर भी दिया गया है। एसएसपी मुनिराज जी. ने बताया कि सीओ छत्ता को मामले की जांच के निर्देश दिए गए थे। वायरल हुए आडियो और वीडियो की जांच में आरोप सही पाए गए हैं। राष्ट्रीय ध्वज अपमान निवारण अधिनियम 1971 की धारा 3, आईपीसी की धारा 153 बी , 505, 505 (1)(b) और 508 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। इसमें शहर मुफ़्ती खुबैब रूमी के बेटे हम्मदुल कुद्दूस भी नामजद किए गए हैं।

शहरवासियों में था आक्रोश

बता दें कि शाही जामा मस्जिद में ध्वजारोहण को शहर मुफ्ती द्वारा हराम करार दिए जाने के बाद लोगों में आक्रोश था। मंगलवार को हिंदू संगठन के पदाधिकारियों ने एसएसपी आफिस और मंटोला थाने में प्रदर्शन किया। उन्होंने शहर मुफ्ती के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को तहरीर दी थी।कलक्ट्रेट में मंगलवार दोपहर राष्ट्रीय हिंदू परिषद के पदाधिकारी और कार्यकर्ता पहुंच गए। पदाधिकारियों ने एसएसपी मुनिराज जी को तहरीर दी थी। राष्ट्रीय हिंदू परिषद के गोविंद पाराशर ने तहरीर में कांग्रेस नेता हाजी जमील कुरैशी और शहर मुफ्ती खुबैब रूमी को नामजद किया। एसएसपी से मांग की कि उनकी तहरीर पर अविलंब मुकदमा दर्ज किया जाए। जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो उनका संगठन सड़क पर उतरकर प्रदर्शन करेगा। एसएसपी ने जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया था। वहीं मंटोला थाने में अखिल भारत हिंदू महासभा की प्रांतीय अध्यक्ष मीना दिवाकर पदाधिकारियों के साथ मंगलवार सुबह 11 बजे मंटोला थाने पहुंचीं। थाने के गेट पर सभी ने नारेबाजी की। इसके बाद थाने में तहरीर दी। इसमें लिखा कि 16 अगस्त को वायरल हुए दो आडियो के आधार पर शहर मुफ्ती और कांग्रेस नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को कहा है। भारत में रहकर ध्वजारोहण को हराम बताने वाले के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए। उनका संगठन किसी भी सूरत में भारत के तिरंगे का अपमान सहन नहीं करेगा। यह मामला राष्ट्रद्रोह की श्रेणी में आता है। आरोपितों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाए। पुलिस ने तहरीर पर जांच कर कानूनी कार्रवाई का आश्वासन देकर अखिल भारत हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं को शांत किया।

शहर मुफ्ती का एक और ऑडियो वायरल

शहर मुफ्ती अब्दुल खुबैब रूमी का मंगलवार को एक और आडियो वायरल हुआ है। इसमें वे कह रहे हैं कि 15 अगस्त से एक दिन पहले कहलवा दिया था कि शाही जामा मस्जिद में कोई गैर इस्लामी काम न हो। फिर भी असलम कुरैशी ने हठधर्मी की। जहालत, हिमाकत का मुजाहिरा किया।उन्हें न तो मुझे रखने का हक था न हटाने का। असल कमेटी के सेक्रेटरी ने मुझे अपाइंटमेंट लेटर दिया था। अपनी खुदमख्तारी और पूरे तौर पर लाकानूनियत पर पर्दा डालने को उन्होंने बात का रुख घुमा दिया। अगर आदमी को इल्म हो, अक्ल हो, दीन हो और समझ हो तो उससे बात की जाए। ये अहले आगरा का फरीजा है कि जामा मस्जिद को नाअहल हाथों से लेकर अहल हाथों में दें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments