Sunday, September 19, 2021
Homeबिहारबिहार : औरंगाबाद के जंगल में 3 घंटे मुठभेड़, जान बचाकर भागे...

बिहार : औरंगाबाद के जंगल में 3 घंटे मुठभेड़, जान बचाकर भागे नक्सली, 3 मारे गए

देव के सतनदिया जंगल में गुरुवार को कोबरा-सीआरपीएफ व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। इसमें तीन नक्सली ढेर हो गए। दोनों तरफ से करीब तीन घंटे तक 600 राउंड से ज्यादा गोलियां चलीं। करीब आधा दर्जन नक्सलियों को गोली लगने की बात सामने आ रही है। लेकिन, मुठभेड़ के बाद सर्च ऑपरेशन के दौरान मौके से तीन नक्सलियों के ही शव बरामद किए गए हैं। माैके से बड़ी संख्या में नक्सलियों के रायफल व गोला-बारूद भी बरामद किए गए हैं।

मारे गए नक्सलियों में एक हार्डकोर नक्सली शामिल है। लेकिन, पुलिस के अनुसार अभी तक तीनों नक्सलियों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। मौके पर औरंगाबाद एसपी दीपक बरनवाल, गया एसएसपी राजीव मिश्रा व सीआरपीएफ के डिप्टी कमांडेंट अनिल कुमार कैम्प कर रहे हैं।

सात आईईडी ब्लास्ट पर कोई जवान हताहत नहीं  – धमाके की आड़ में बच निकले कई नक्सली : सीआरपीएफ-कोबरा व एसटीएफ जवानों से नक्सली तीन तरफ से घिर चुके थे। वहीं कोबरा यूजीबीएल लांचर गन से फायर कर रही थी। इसके बाद नक्सलियों ने रास्ते में बिछाई आईईडी का सीरियल ब्लास्ट कराया। इसके कारण कोबरा जवान पीछे हट गए और नक्सली भागने में कामयाब हो गए।

भास्कर पड़ताल: नक्सलियों के आने की सूचना पर देर रात से ही जंगल में जमे हुए थे जवान – पुलिस को खुफिया इनपुट मिली कि नक्सली जोनल कमांडर अभिजीत उर्फ बनवारी व विनय यादव उर्फ गुरुजी का दस्ता किसी बड़ी घटना की साजिश रचने जंगल में पहुंचने वाला है। सूचना के फौरन बाद जवान जंगल की ओर कूच कर गई। जवान बुधवार को रातभर जंगल में गुजारे। गुरुवार की सुबह 9 बजे 20 से 25 हथियारबंद नक्सली वहां पहुंचे। इनकी नजर जवानों पर पड़ गई। नक्सलियों ने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। जवानों ने भी मोर्चा संभाला और जवाबी कार्रवाई शुरू की। दोनों तरफ से रुक-रुककर दोपहर 12 बजे तक गाेलीबारी चलती रही। इसमें 6 नक्सलियों को गोली लगी। इसके बाद नक्सली आईईडी ब्लास्ट कर भाग निकले। इनकी घेराबंदी के लिए 200 जवानों को जंगल में सर्च ऑपरेशन के लिए लगाया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments