Saturday, September 18, 2021
Homeमध्य प्रदेशभतीजा चाचा टमस नदी में डूबे, मोत

भतीजा चाचा टमस नदी में डूबे, मोत

रीवा जिले के त्योंथर क्षेत्र से निकलने वाली टमस नदी में रिश्ते के चाचा-भतीजे के डूबने का मामला सामने आया है। पुलिस का दावा है कि रिमझिम बारिश के कारण मंगलवार की रात भतीजा मछली की जाल को निकालते समय नाव से नदी में गिरकर डूब गया। परिवार वालों ने आशंका व्यक्त की है कि उसे मिर्गी का दौरा पड़ा होगा। वहीं ,बुधवार की सुबह चाचा नाव का पानी निकाल रहा था। तभी नाव का संतु​लन बिगड़ा और नाव के साथ चाचा भी डूब गया।

टमस नदी में हुए दो हादसों की जानकारी त्योंथर चौकी पुलिस ​सहित सोहागी पुलिस को दी गई। जानकारी के बाद पहुंचे पुलिस के आला अधिकारियों ने SDRF और होमगार्ड के जवानों को मौके पर बुलाया है। जहां अब स्टीमर की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है, लेकिन तराई क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश के कारण रेस्क्यू करने में दिक्कत जा रही है।

नदी के किनारे में खड़ी रेस्क्यू टीम।

मिर्गी के चक्कर से डूबने की आशंका

सोहागी थाना प्रभारी उप निरीक्षक पवन शुक्ला ने बताया कि मंगलवार की रात करीब 8 बजे के आसपास अंकित मांझी (14) पिता नंदकुमार निवासी बाबूपुर वार्ड क्रमांक 10 त्योंथर टमस नदी में मछली पकड़ने गया था। परिजन के बताए अनुसार आशंका है कि उसको मछली का जाल निकालते समय मिर्गी का चक्कर आया। इससे वह टमस नदी में डूब गया। हालांकि रात में ही परिजन और पुलिस के जवान अपने स्तर से नदी में खोजबीन किए, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला था। साथ ही रातभर हुई रिमझिम बारिश के कारण नदी का जल स्तर भी बढ़ा है। जिससे बुधवार की सुबह रेस्क्यू ऑपरेशन में भी दिक्कतें आ रही है।

बारिश के बीच रेस्क्यू कराती सोहागी पुलिस।
बारिश के बीच रेस्क्यू कराती सोहागी पुलिस।

सुबह रिश्ते का चाचा भी डूबा

त्योंथर चौकी प्रभारी उपनिरी​क्षक संजीव शर्मा ने बताया कि बालकृष्ण मांझी पिता नंदलाल (32) निवासी बाबूपुर वार्ड क्रमांक 10 त्योथर टमस नदी में बुधवार की सुबह 7 बजे नदी में डूब रही नाव को निकालने आया था। उसी समय तेज बारिश भी चल रही थी। ऐसे में वह छाता लगातार डिब्बे से नाव का पानी निकाल रहा था। तभी नाव का संतुलन बिगड़ा और नाव पलट गई। हादसे के बाद बालकृष्ण मांझी टमस नदी में डूब गया। दूसरे हादसे के बाद पुलिस हरकत में आई और होमगार्ड व एसडीआरईएफ के जवानों को मौके पर बुलाया है। जो स्टीमर की मदद से नदी की सर्चिंग कर रहे है।

बारिश के कारण रेस्क्यू में आ रही दिक्कत

SDRF की रेस्क्यू टीम का कहना है कि रेस्क्यू में दिक्कत आ रही है। लगातार बारिश और टमस में उफान आने की वजह से परेशानी और बढ़ गई है। नदी में डूबने के दूसरे दिन शव पानी से उपर आता था। साथ ही पानी में डूबने वाले शव बहते हुए एक जगह से दूसरे जगह पहुंच जाते है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments