Friday, September 24, 2021
Homeखेलन्यूजीलैंड के दिग्गज ऑलराउंडर को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया

न्यूजीलैंड के दिग्गज ऑलराउंडर को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया

न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर क्रिस केयर्न्स फिलहाल जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहे हैं। वे इसी हफ्ते अचानक बेहोश हो गए थे। इसके बाद क्रिस को ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वे फिलहाल लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं और उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। क्रिस दिल की एक गंभीर बीमारी एओरटिक डिसेक्शन से जूझ रहे हैं। इसके बाद कैनबरा और सिडनी में उनके हार्ट की सर्जरी भी की गई।

तबीयत बिगड़ने पर गिर गए थे क्रिस केयर्न्स

न्यूजीलैंड हेराल्ड की रिपोर्ट में कहा गया है कि ऑपरेशन के बावजूद क्रिस का शरीर उम्मीद के मुताबिक प्रतिक्रिया नहीं दे रहा है। फिलहाल उनकी हालत स्थिर है। क्रिस की पत्नी मेलनी का कहना है कि यह उनके परिवार के लिए सबसे मुश्किल समय है। हम उनके लिए प्रार्थना कर रहे हैं। डॉक्टर से लगातार संपर्क में हैं और अपडेट के बारे में जानकारी ले रहे हैं। 51 साल के क्रिस पिछले हफ्ते कैनबरा में तबीयत बिगड़ने के बाद गिर गए थे।

51 साल के क्रिस पिछले हफ्ते कैनबरा में तबीयत बिगड़ने के बाद गिर गए थे।
51 साल के क्रिस पिछले हफ्ते कैनबरा में तबीयत बिगड़ने के बाद गिर गए थे।

मैकुलम और लक्ष्मण ने अच्छे स्वास्थ्य की कामना की

न्यूजीलैंड क्रिकेट के चीफ एग्जीक्यूटिव डेविड व्हाइट, पूर्व क्रिकेटर ब्रैंडन मैकुलम और वीवीएस लक्ष्मण ने भी क्रिस के अच्छा स्वास्थ्य की कामना की है। व्हाइट ने कहा कि क्रिस एक आदर्श पति, पिता और बेटे हैं। हमें उम्मीद है कि वह जल्द स्वस्थ हो जाएंगे। वहीं मैकुलम ने कहा कि हम सब जानते हैं क्रिस शानदार क्रिकेटर थे।

न्यूजीलैंड के बेस्ट ऑलराउंडर्स में से एक क्रिस केयर्न्स

क्रिस न्यूजीलैंड के महान खिलाड़ियों में से एक लांस केयर्न्स के बेटे हैं। क्रिस को 1990 की दशक के बेस्ट ऑलराउंडर्स में से एक माना जाता है। उन्होंने न्यूजीलैंड के लिए 1989 से 2006 के बीच 62 टेस्ट, 215 वनडे और 2 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले। वे फिलहाल स्काई स्पोर्ट्स में कमेंट्री कर रहे थे।

क्रिस को 1990 की दशक के बेस्ट ऑलराउंडर्स में से एक माना जाता है।
क्रिस को 1990 की दशक के बेस्ट ऑलराउंडर्स में से एक माना जाता है।

2008 में क्रिस पर लगे थे फिक्सिंग के आरोप

क्रिस पर 2008 में इंडियन क्रिकेट लीग (ICL) में खेलने के दौरान मैच फिक्सिंग के आरोपों का सामना करना पड़ा था। केयर्न्स ने खुद को निर्दोष साबित करने के लिए कई कानूनी लड़ाइयां लड़ीं। हालांकि बाद में ICL को भंग कर दिया गया था। मैच फिक्सिंग के आरोपों के खिलाफ उन्होंने 2012 में इंडियन प्रीमियर लीग के संस्थापक ललित मोदी के खिलाफ मानहानि का मामला भी जीता।

फिक्सिंग का उनकी निजी जिंदगी पर भी असर पड़ा

क्रिस को अपने साथी खिलाड़ी लू विन्सेंट और ब्रैंडन मैकुलम से दोबारा फिक्सिंग के आरोपों का सामना करना पड़ा। 2015 में लंदन में लंबी सुनवाई के बाद उन्हें झूठी गवाही देने और न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने के आरोपों से बरी कर दिया गया था। एक समय उनके पास कानूनी प्रक्रिया के लिए फीस तक नहीं था। इसके बाद क्रिस ने आकलैंड परिषद में ट्रक चलाने और बस स्टैंड में सफाई का भी काम किया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments