Monday, September 27, 2021
Homeमहाराष्ट्रमहाराष्ट्र : लॉकडाउन फेज-4 का नौवां दिन : मुंबई में केईएम हॉस्पिटल...

महाराष्ट्र : लॉकडाउन फेज-4 का नौवां दिन : मुंबई में केईएम हॉस्पिटल के कोरोना वार्ड में तैनात कर्मचारी की मौत, स्टाफ का हंगामा; बीएमसी हेल्प डेस्क के 22 कर्मचारी संक्रमित

मुंबई. महाराष्ट्र में मंगलवार तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 52 हजार 667 हो गई। यहां एक दिन में 60 मरीजों की मौतें हुईं। इसके साथ ही इस बीमारी से जान गंवाने वालों का आंकड़ा 1695 हो गया। पिछले 24 घंटे में राज्य में 2436 नए संक्रमित मरीज सामने आए। एक दिन में रिकॉर्ड 1186 मरीज ठीक भी हुए। अब राज्य में 35 हजार 178 मरीज ही अस्पताल में भर्ती हैं।

उधर, मुंबई के केईएम अस्पताल के कोरोना वार्ड में तैनात एक कर्मचारी की मौत के बाद मंगलवार को हॉस्पिटल के बाहर स्वास्थ्यकर्मियों, पैरामेडिकल स्टाफ ने हंगामा किया है। इनमें कई डॉक्टर भी शामिल हैं। इनका आरोप है कि 4 दिन से बीमार चल रहे स्वास्थ्यकर्मी ने छुट्टी के लिए कई बार अर्जी दी, जो मंजूर नहीं की गई। रविवार रात उनकी मौत हो गई। मौत के बाद कर्मचारी का कोरोना टेस्ट किया गया है। रिपोर्ट का इंतजार है।

प्रदर्शन कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों की मांग है कि मृतक के परिवार को नौकरी और मुआवजा भी दिया जाना चाहिए। फिलहाल, उनका शव अस्पताल की मोर्चरी में रखा है। कर्मचारियों का यह भी कहना है कि हॉस्पिटल की मोर्चरी फुल हो चुकी है। इसलिए बॉडी को फर्स्ट फ्लोर के गलियारे में रखा जा रहा है।

मुंबई में कोरोना पॉजिटिव रेट 32% पहुंचा

मुंबई में हर 100 सैंपल टेस्ट करने पर 32 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं। 13 मई से 23 मई तक शहर में  इस दौरान 43 हजार 25 लोगों की टेस्टिंग की गई। इनमें से 13 हजार 853 लोग संक्रमित मिले। मुंबई में अब तक 31 हजार से अधिक संक्रमित हो चुके हैं। करीब 14 हजार मामले सिर्फ 10 दिन में आए हैं। रूस की राजधानी मॉस्को के बाद मुंबई में ही रोज सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। 22 मई को मुंबई में 1751 मामले सामने आए थे। उस दिन मॉस्को में 2988 संक्रमित मिले थे।

राज्य के 60.5% मरने वाले सिर्फ मुंबई से

महाराष्ट्र में सोमवार को 60 संक्रमितों की मौत हुई। इनमें से अकेले मुंबई में ही 38 लोगों ने दम तोड़ा। यानि राज्य की 60.5% मौतें सिर्फ मुंबई में ही हुईं। मुंबई में अब तक 1026 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। देश में अब तक इस बीमारी से 4174 लोगों ने जान गंवाई है। यानी इनमें से 25% मौत सिर्फ मुंबई में हुई हैं। महाराष्ट्र में 52 हजार 667 कोरोना संक्रमित हैं। इनमें से करीब 32 हजार सिर्फ मुंबई में हैं। यह राज्य के कुल संक्रमितों का करीब 61% है।

बीएमसी हेल्प डेस्क पर काम करने वाले 48 में से 22 को कोरोना हुआ

कोरोना मरीजों की जल्द मदद करने के लिए बीएमसी के आपदा ​प्रबंधन नियंत्रण कक्ष में 48 कर्मचारियों को रखा गया था। इनमें से अब तक 22 कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। अब हेल्प डेस्क पर सिर्फ 26 लोग बचे हैं। इन्हें हर दिन 4000 से अधिक कॉल अटेंड करनी पड़ रही हैं, जिसके कारण सभी कर्मचारी काफी तनाव में हैं। मरीजों को एम्बुलेंस मुहैया कराना, अस्पतालों में बेड ​की स्थिति की जानकारी रखना और सं​बंधित अस्पताल से बात कर मरीजों को हर मुमकिन मदद देना इन कर्मचारियों की जिम्मेदारी है।

एक दिन में मुंबई एयरपोर्ट पर 4852 यात्रियों ने सफर किया

करीब 2 महीने बाद मुंबई एयरपोर्ट से शुरू हुई घरेलू उड़ान सेवा के दौरान 47 विमानों से 4852 यात्रियों ने सफर किया। इसमें मुंबई आने वाले यात्रियों की संख्या 1100 थी, जबकि यहां से 3752 लोग देश के अलग-अलग हिस्सों में गए। मुंबई एयरपोर्ट पर उतरने वाले सभी यात्रियों को 14 दिनों तक होम क्वारैंटाइन रहने का आदेश दिया गया है।

हर रोज 4 हजार से अधिक टेस्टिंग हो रही

रोजाना 4 हजार से अधिक कोरोना टेस्टिंग मुंबई में की जा रही है। मुंबई में 23 मई तक 1.7 लाख कोरोना टेस्टिंग की गई थी। इनमें से 43 हजार 25 टेस्टिंग केवल 10 दिन में की गई। यानी करीब 25% टेस्टिंग केवल 13 मई से 23 मई के बीच की गई।

धारावी में रिकवरी रेट 42% पहुंचा 

एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1583 तक पहुंच चुका है। इनमें से 680 मरीज ठीक हो चुके हैं। यहां रिकवरी रेट 42% है, जो महाराष्ट्र (30%) और मुंबई (24%) से बेहतर है।

महाराष्ट्र से जम्मू भेजे गए 3300 लोग 

महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में फंसे 1200 छात्रों समेत जम्मू-कश्मीर के करीब 3300 नागरिकों को उनके प्रदेश भेजा गया है। जम्मू के लिए पिछले 15 दिनों में 4 ट्रेनें रवाना की गईं।

 

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments