Wednesday, September 22, 2021
Homeबिहारनीतीश कुमार ले रहे हैं पटना के घाटों का जायजा

नीतीश कुमार ले रहे हैं पटना के घाटों का जायजा

बिहार में बाढ़ से हालात गंभीर है। इस संकट को देखते हुए बुधवार को CM नीतीश कुमार पटना में हालात का जायजा लेने निकले। जल-संसाधन मंत्री संजय झा भी साथ में मौजूद हैं। CM नीतीश कुमार पटना मुख्य नहर के दीघा लॉक का निरीक्षण कर रहे हैं। इसके बाद कुर्जी गोसाई टोला के पास बाढ़ की स्थिति और LCT घाट और गांधी घाट पर पटना शहर की सुरक्षा दीवार का भी जायजा लिया। दीघा लॉक से जेपी सेतु होते हुए हाजीपुर, गांधी सेतु होते हुए गांधी घाट भी जाने की प्लानिंग है। राजधानी पटना पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। गंगा के जलस्तर में हुए इजाफे के कारण सभी नालों का गेट बंद कर दिए गए है। साथ ही गंगा किनारे में स्थित मोहल्लों के लोगों के लिए अलर्ट जारी किया गया है।

जेपी सेतु पर सीएम नीतीश कुमार के साथ मंत्री संजय झा।
जेपी सेतु पर सीएम नीतीश कुमार के साथ मंत्री संजय झा।

पटना की सुरक्षा दीवार को पार कर गई गंगा

पटना में कई सालों के बाद बाढ़ का संकट गंभीर नजर आ रहा है। गंगा नदी के किनारे बनी पटना की सुरक्षा दीवार को गंगा पार कर गई है। गंगा के जलस्तर में पिछले 24 घंटे में 17 सेंटीमीटर का इजाफा हुआ है और अब नदी खतरे के निशान से 116 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है। यही वजह है कि पटना की सुरक्षा दीवार को बाढ़ का पानी पार कर गया है। पटना के सभी गंगा घाटों को अब पूरी तरीके से बंद कर दिया गया है।

पटना के दीघा घाट पर गंगा का जलस्तर 51.02 मीटर से ऊपर है। यहां खतरे का रिचार्ज 50.45 मीटर है। गांधी घाट पर गंगा का जलस्तर 49.76 मीटर है जबकि यह खतरे का निशान 48.60 मीटर है। इसी तरह हाथीदह में गंगा का जलस्तर 42.85 मीटर है। यह खतरे का निशान 41.46 मीटर है। गंगा के बढ़ते जलस्तर और राजधानी पटना पर मंडराते बाढ़ संकट को देखते हुए जल संसाधन विभाग अलर्ट मोड में जारी कर दिया है।

पटना में बाढ़ के खतरे को लेकर निरीक्षण कर रहे हैं सीएम नीतीश।
पटना में बाढ़ के खतरे को लेकर निरीक्षण कर रहे हैं सीएम नीतीश।

इनका क्या है कहना

जल संसाधन मंत्री संजय झा ने कहा है कि विभाग के सभी अधिकारियों और इंजीनियरों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। संजय झा लगातार CM नीतीश कुमार के साथ बाढ का जायजा ले रहे है। CM नीतीश कुमार संजय झा को जरूरी निर्देश भी दे रहे है।

इधर, गंगा के बढ़े हुए जलस्तर के कारण पटना से गंगा में मिलने वाले सभी नालों के गेट बंद कर दिए गए हैं। इन नालों के जरिए पटना में पानी प्रवेश करने का खतरा बढ़ा हुआ है। गंगा किनारे रहने वालों को एलर्ट मोड पर रहने का निर्देश दे दिया गया है। जिनका भी आवास सुरक्षा दिवार के अंदर है उन सभी को अलर्ट कर दिया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments