Thursday, September 23, 2021
Homeटॉप न्यूज़न शास्त्री, न मुखर्जी, न दीनदयाल...मौत की फिर जांच नहीं कराएगी सरकार

न शास्त्री, न मुखर्जी, न दीनदयाल…मौत की फिर जांच नहीं कराएगी सरकार

  • STORY BY : PAWAN MAKAN

पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय की मौत की जांच के लिए केंद्र सरकार फिलहाल किसी आयोग का गठन नहीं करेगी. सरकार ने कहा है कि इन नेताओं की संदिग्ध मौत की जांच के लिए अभी किसी आयोग के गठन करने का प्रस्ताव नहीं है. पूर्व पीएम शास्त्री की 11 जनवरी 1966 में तासकंद, श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 23 जून 1953 में श्रीनगर और दीनदयाल उपध्याय की 11 फरवरी 1968 में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी.

पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय की मौत की जांच के लिए केंद्र सरकार फिलहाल किसी आयोग का गठन नहीं करेगी. सरकार ने कहा है कि इन नेताओं की संदिग्ध मौत की जांच के लिए अभी किसी आयोग के गठन करने का प्रस्ताव नहीं है.

पूर्व पीएम शास्त्री की 11 जनवरी 1966 में तासकंद, श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 23 जून 1953 में श्रीनगर और दीनदयाल उपध्याय की 11 फरवरी 1968 में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी.

लाल बहादुर शास्त्री की मौत 10 जनवरी 1966 को रूस के ताशकंद में पाकिस्तान के साथ शांति समझौते के महज 12 घंटे बाद 11 जनवरी को अचानक हो गई थी. उनकी मौत गुत्थी आज भी अनसुलझी है. ‘जय जवान जय किसान’ का नारा देने वाले पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने अपना पूरा जीवन देश के लिए समर्पित कर दिया था. उनका जन्म 2 अक्टूबर 1904 को उत्तर प्रदेश के मुगलसराय में हुआ था. उनके पिता का नाम ‘मुंशी शारदा प्रसाद श्रीवास्तव’ था, जो प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक थे.

वहीं, दीनदयाल उपाध्याय का शव 11 फरवरी 1968 को दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन (पहले मुगल सराय रेलवे स्टेशन) के पास मिला था. बताया जा रहा है कि 12 फरवरी 1968 को नई दिल्ली में भारतीय जनसंघ संसदीय दल की बैठक होनी थी. इसी दौरान पटना में बिहार प्रदेश भारतीय जनसंघ की कार्यकारिणी की बैठक भी होने वाली थी. लिहाजा बिहार प्रदेश के जनसंघ के तत्कालीन संगठन मंत्री अश्विनी कुमार ने जनसंघ के अध्यक्ष पंडित दीनदयाल उपाध्याय से बैठक में शामिल होने की अपील की थी.

इसके लिए उनको 10 फरवरी को फोन किया गया था. उनके मौत के कारण की तस्वीर अब तक साफ नहीं हो पाई है. हालांकि उनकी मौत को लेकर तरह तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments