Sunday, September 19, 2021
Homeछत्तीसगढ़उपलब्धि : अब देश में बनेंगे डीएसवी जहाज, बीएसपी की स्पेशल ग्रेड...

उपलब्धि : अब देश में बनेंगे डीएसवी जहाज, बीएसपी की स्पेशल ग्रेड की प्लेट्स का इसमें होगा इस्तेमाल

भिलाई. देश में पहली बार डायविंग सपोर्ट व्हेसल्स (डीएसवी) बनने जा रहा है। अब तक इसे विदेशों से इंपोर्ट किया जा रहा था। डीएसवी में बीएसपी की स्पेशल ग्रेड की प्लेट्स का इस्तेमाल होगा। इंडियन रजिस्ट्रार ऑफ शिपिंग (आईआरएस) ने गुरुवार को सर्टिफिकेट जारी कर दिया। मेक इन इंडिया के तहत केंद्र ने डीएसवी का निर्माण देश में ही करने का निर्णय लिया है। इसका इस्तेमाल भारतीय नौसेना को करना है, जिसने इसके निर्माण की जिम्मेदारी हिन्दुस्तान शिपयार्ड को दी है जो रक्षा मंत्रालय अंतर्गत केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम है।

महीने भर की जांच के बाद जारी किया सर्टिफिकेट

  1. भारतीय नौसेना से आर्डर मिलने के बाद हिन्दुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड को स्पेशल प्लेट्स की सप्लाई की जिम्मेदारी बीएसपी को दी। जिसके बाद आईआरएस की टीम करीब महीने भर पूर्व बीएसपी पहुंची। इस दौरान टीम के सदस्यों ने प्लेट्स के उत्पादन की प्रक्रिया को बारीकी से देखा। इस दौरान प्लेट के उत्पादन में जिन भी विभागों की भूमिका रहती है, टीम के सदस्यों ने वहां की कार्यप्रणाली को देखा। फिर सर्टिफिकेट जारी किया।
  2. जानिए बीएसपी से इन ग्रेड की प्लेट्स होगी सप्लाई

    आईआरएस से कार्य अनुमोदन प्रमाणित होने के बाद निर्माण और आपूर्ति के लिए 8 मिमी से 45 मिमी तक प्लेट की मोटाई के साथ सामान्य शक्ति (ए, बी और डी) की आईआरएस ग्रेड प्लेट्स की सप्लाई की जाएगी। फिलहाल बीएसपी के पास भारतीय नौसेना के लिए शिप-बिल्डिंग ग्रेड प्लेट्स और युद्धपोत ग्रेड प्लेट्स डीएमआर 249 ए का उत्पादन करने के साथ ही लायड्स रजिस्टर एशिया आदि से सर्टिफाई है।

  3. 400 टन प्लेट्स किया गया डिस्पैच

    भारतीय नौसेना द्वारा दिए गए आदेशों को देखते हुए हिन्दुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड को प्लेटों की अत्यधिक आवश्यकता है। प्रमाणित होने के बाद, बीएसपी के प्लेट मिल ने हिन्दुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड के लिए लगभग 1600 टन आईआरएस ग्रेड बी प्लेटों का उत्पादन कर लिया है। जिसमें से लगभग 400 टन का डिस्पैच किया गया है और आईआरएस सर्वेयर्स द्वारा शेष प्लेटों का निरीक्षण अंतिम प्रक्रिया में है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments