Monday, September 27, 2021
Homeटॉप न्यूज़बीमा असली, मौत का कारण फर्जी - कैंसर पीड़ित की सड़क हादसे...

बीमा असली, मौत का कारण फर्जी – कैंसर पीड़ित की सड़क हादसे में मौत दिखाकर 2 साल पहले लिया ~25 लाख का क्लेम, मृतक की पत्नी समेत दो के खिलाफ केस

  • एसटीएफ की सूची में जिले के हैं 7 ऐसे व्यक्ति जो कैंसर पीड़ित थे और मौत होने पर उसे सड़क हादसा दिखाकर लिया मोटा क्लेम

प्राइवेट बीमा कंपनी की शिकायत पर पुलिस ने मृतक की पत्नी सहित दो लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। बीमा कंपनी का आरोप है कि कैंसर पीड़ित की सड़क हादसे में मौत दिखाकर 2 साल पहले 25 लाख का बीमा क्लेम लिया गया। (प्रतिकात्मक फोटो)

सीएन 24

पानीपत. शहर की अजमेर बस्ती में रहने वाले एक व्यक्ति जो कि कैंसर से पीड़ित था। उसकी मौत होने पर उसे सड़क हादसा दिखाकर प्राइवेट बीमा कंपनी से 25 लाख रुपए का क्लेम ले लिया। बीमा कंपनी को इसका काफी दिनों बाद पता चला। इसके बाद शहर थाना में मामले की शिकायत की गई। पुलिस ने अब मृतक की पत्नी सहित दो लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी सहित कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है।

बजाज एलांयस जनरल इंश्योरेंस कंपनी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि रानू पत्नी रामश्रेष्ठ निवासी अजमेर बस्ती भिवानी रोड जींद व विनोद पुत्र प्रेमसिंह निवासी धर्मखेड़ी ने रामश्रेष्ठ जो कि कैंसर से पीड़ित था। उसकी मौत होने पर उसे सड़क हादसा बताकर फर्जी कागजात तैयार करवा कंपनी से 25 लाख रुपए की 4 जुलाई 2017 को बीमा क्लेम राशि ले ली।
कैंसर पीड़ित होने के बाद उसकी बीमारी को छुुपाया गया और कंपनी से उसका 25 लाख रुपए का बीमा करवाया गया। शहर थाना पुलिस ने इस पर मृतक की पत्नी रानू व विनोद के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

जिन 54 लोगों की एसटीएफ जांच कर रही, उस सूची में मृतक रामश्रेष्ठ का नाम भी शामिल
कैंसर पीड़िताें की बीमा करवाकर मौत होने पर उन्हें सड़क हादसा या फिर कोई अन्य कारण दिखाकर मोटा बीमा क्लेम लेने के मामले की एसटीएफ द्वारा वर्ष 2019 से जांच की जा रही है। इस फर्जीवाड़े के गिरोह में शामिल कई लोग जिनमें डॉक्टर भी शामिल हैं को एसटीएफ गिरफ्तार कर चुकी है। एसटीएफ की सूची में कुल 54 नाम हैं जो कैंसर पीड़ित थे और मौत होने पर उन्हें दूसरे कारण बताकर बीमा कंपनियों से मोटी राशि क्लेम के रूप में ली गई। 54 लोगों में 49 लोग प्रदेश के विभिन्न जिलों से हैं, जबकि 5 लोग जिनमें 3 दिल्ली के व 2 पंजाब के रहने वाले थे। इस सूची में जींद जिले के 7 लोगों के नाम हैं जिनमें अजमेर बस्ती भिवानी रोड निवासी रामश्रेष्ठ का नाम भी शामिल है।

एसटीएफ की सूची में जिले के ये हैं 7 लोग शामिल
1. भानेराम पुत्र सूबेसिंह निवासी रामनगर जिला जींद।
2. जयमाल निवासी कर्मगढ़ जिला जींद।
3. माधो पत्नी सेवा निवासी छात्तर जिला जींद।
4. महेंद्र सिंह पुत्र  हरदेवा निवासी हाट जिला जींद।
5. रामश्रेष्ठ पुत्र जिले सिंह निवासी अजमेर बस्ती जिला जींद।
6. शमेशर पुत्र नफेसिंह निवासी भौंगरा जिला जींद।
7. सत्यवान पुत्र रणजीत निवासी बागड़ू खुर्द जिला जींद।

जांच कर रही है पुलिस : रोहताश ढुल
^ प्राइवेट बीमा कंपनी की शिकायत पर पुलिस ने मृतक की पत्नी सहित दो लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। बीमा कंपनी का आरोप है कि कैंसर पीड़ित की सड़क हादसे में मौत दिखाकर 2 साल पहले 25 लाख का बीमा क्लेम लिया गया।
-रोहताश ढुल, शहर थाना प्रभारी जींद।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments