Saturday, September 18, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशयोगी राज में आजम खान के बुरे दिन, अब तक 13 संगीन...

योगी राज में आजम खान के बुरे दिन, अब तक 13 संगीन मामले दर्ज, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी !

लखनऊ। समाजवादी पार्टी का मुस्लिम चेहरा और पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के बेहद करीबी आजम खान पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। योगी राज में उन पर कानून के तहत कड़ी कार्यवाही जारी है।

सपा सरकार के दौरान उनकी जोर जबरदस्ती और अवैध कब्जे की सारी फाइलें खुलती जा रही हैं। उनके उपर अब तक कुल 13 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। ये मामले जमीनें हड़पने और वक्फ की जमीन कब्जाने से लेकर डराने-धमकाने तक हैं। ताजा मामला गरीब किसानों की जमीनें हड़पने का है। आरोप के मुताबिक ये वे किसान हैं जिन्हे एक पैसा दिए बगैर इनकी जमीनें आजम खान ने कब्जा लीं।

आजम खान ने इन गरीब किसानों की जमीनें कब्जा कर उनकी बुनियाद पर अपनी मौलाना अली जौहर यूनिवर्सिटी खड़ी कर ली। ये सब उस वक्त हुआ जब यूपी मे समाजवादी पार्टी की सरकार थी और आजम खान बेहद कद्दावर मंत्री हुआ करते थे। आजम खान के साथ ही उनके बेहद ही करीबी आले हसन पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। आले हसन रिटायर्ड सीओ रह चुके हैं और आजम खान के दाहिने हाथ बताए जाते हैं। आरोप है कि दोनो ही डरा धमका कर गरीबों से उनकी जमीनें छीन लीं हैं।

पुलिस आले हसन के बेटे वसीम और आजम के बेहद करीबी सलीम कासिम को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। इन दोनो के ही खिलाफ रामपुर के 26 किसानों ने शिकायत की है, जिनकी जमीनें कब्जा कर मौलाना अली जौहर विश्वविद्यालय में मिला ली गईं। उधर आजम का कहना है कि उन्होंने ये जमीनें खरीदी हैं मगर पुलिस की जांच कुछ और ही कहती है। पुलिस की जांच में निकलकर आया है कि किसानों की जमीनों के ऐसे कई गाटे हैं जिन्हें बगैर दाम दिए ही यूनिवर्सिटी बनाने में मिला लिया गया है। आलम ये है कि रामपुर की सड़कों पर रोज ही आजम के खिलाफ जमकर प्रदर्शन हो रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments