Monday, September 27, 2021
Homeबिहारकातिल मुहब्बत का खुला राज:मशरक में डॉक्टर पति की हत्या के लिए...

कातिल मुहब्बत का खुला राज:मशरक में डॉक्टर पति की हत्या के लिए पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर दी थी 1 लाख 80 हजार की सुपारी, पकड़ा गया सुपारी किलर

  • मशरक के चिकित्सक डॉ. शिवकुमार सिंह हत्याकांड में अप्राथमिकी अभियुक्त शुकुल राय गिरफ्तार
  • 1 लाख 80 हजार की सुपारी लेकर डॉक्टर की गला रेतकर कर दी थी हत्या

मशरक के चिकित्सक डॉ. शिवकुमार सिंह हत्याकांड में 1 लाख 80 हजार का सुपारी किलर पानापुर थाना क्षेत्र के सेमराहां निवासी शुकुल राय को प्रभारी थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने सोमवार की रात गिरफ्तार कर लिया। प्रभारी थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि चिकित्सक हत्याकांड का अप्राथमिकी अभियुक्त शुकुल राय घर में सोया हुआ है। उन्होंने SI बच्ची देवी और पुलिस बल के साथ सेमराहां गांव में छापेमारी की। भैंस के तबेला में सुपारी किलर शुकुल राय सोया हुआ था, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार सुपारी किलर से पुलिस पूछताछ में जुट गई है। इस हत्याकांड में पुलिस चिकित्सक की पत्नी प्रियंका देवी और उसके प्रेमी सचिन भास्कर को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है, जो अभी भी जेल में ही बंद हैं।

9 जनवरी 2020 को की गई थी हत्या
पानापुर थाना क्षेत्र के रसौली चंवर में 9 जनवरी 2020 को मशरक के आदर्श सेवा सदन नर्सिंग होम के संचालक चिकित्सक शिवकुमार सिंह की हत्या गला रेत कर कर दी गई थी। 10 जनवरी को पुलिस ने रसौली चंवर से डॉक्टर शिवकुमार सिंह का शव और उनकी बाइक को बरामद किया था। 10 जनवरी को चिकित्सक की पत्नी प्रियंका देवी ने पति की हत्या की प्राथमिकी अज्ञात अपराधियों के खिलाफ पानापुर थाने में दर्ज कराई थी।

ऐसे शक की सूई घूमी डॉक्टर की पत्नी की तरफ
सारण जिले के नयागांव थाने के वाजितपुर निवासी डॉक्टर शिवकुमार सिंह हत्याकांड में नया मोड़ तब आया, जब घटना के मात्र 6 दिनों बाद 16 जनवरी 2020 को चिकित्सक के पिता देवेंद्र सिंह ने अपनी पतोह प्रियंका देवी के गायब होने की प्राथमिकी मशरक थाने में दर्ज कराई। पुलिस को दिए आवेदन में डॉक्टर शिवकुमार सिंह के पिता ने अपनी बहू पर गहना, रुपए, कागजात, FIR की कॉपी, दो सेट मोबाइल लेकर मशरक आवास से गायब होने की बात बताई। इस घटना के बाद पुलिस का शक चिकित्सक की पत्नी की तरफ बढ़ गया। फिर पुलिस पति की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराने वाली पत्नी को ही ढूंढ़ने लगी।

डॉक्टर के साथ पार्टनरशिप में काम करता था प्रेमी
नया गांव थाना क्षेत्र के वाजितपुर निवासी डॉक्टर शिवकुमार सिंह मशरक में आदर्श सेवा सदन नर्सिंग होम चलाते थे। आदर्श सेवा सदन नाम से ही एक नया सेंटर मशरक निवासी सचिन गुप्ता उर्फ सचिन भास्कर के पार्टनरशिप में पानापुर बाजार पर खोली थी। 9 जनवरी 2020 को शाम साढ़े चार बजे डॉक्टर शिवकुमार सिंह पानापुर नर्सिंग होम पर मरीज आने की सूचना पर अपने मशरक आवास से निकले थे। उसके बाद वे गायब हो गए थे। अगले दिन 10 जनवरी 2020 को पानापुर थाना क्षेत्र के रसौली चंवर में डॉक्टर शिवकुमार सिंह का शव होने की सूचना पुलिस को मिली थी।

ऐसे सुपारी दी पत्नी ने अपने पति के नाम की
2 फरवरी 2020 को छपरा नगर थाना पुलिस चिकित्सक की पत्नी प्रियंका देवी और उसके प्रेमी सचिन भास्कर को छपरा से पकड़ने में सफल रही। पुलिस की पूछताछ में चिकित्सक की पत्नी प्रियंका देवी और उसके प्रेमी सचिन गुप्ता उर्फ सचिन भास्कर ने पुलिस को दिए बयान में स्वीकार किया कि दोनों के बीच डेढ़ वर्षों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इस बात की भनक लगने के बाद डॉक्टर शिवकुमार सिंह अपनी पत्नी के साथ गाली-गलौज, मारपीट करते थे। एक दिन प्रेम प्रसंग से गुस्साए चिकित्सक ने अपनी पत्नी प्रियंका देवी का बांह काट दिया था। इस घटना के बाद डॉक्टर की पत्नी और उसके प्रेमी सचिन भास्कर ने प्रेम की राह में रोड़ा बन रहे शिवकुमार सिंह की हत्या की योजना बनाई। 1 लाख 80 हजार रुपए में पानापुर थाना क्षेत्र के सेमराहां के शुकुल राय को हत्या की सुपारी दे दी।

जिसने पति की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई, वही निकली कातिल
पानापुर थाने के इतिहास में चिकित्सक शिवकुमार सिंह हत्याकांड इकलौती घटना है, जिसमें जिस पत्नी ने पति की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई, पुलिस को बाद में पति की हत्या कराने के आरोप में उसे ही गिरफ्तार करना पड़ गया। नया गांव थाना क्षेत्र के वाजितपुर निवासी डॉक्टर शिवकुमार सिंह की पहली पत्नी की मृत्यु के बाद प्रियंका देवी से प्रेम विवाह हुआ था। प्रियंका देवी ने पहले भी अपने पति को मारने की कोशिश की थी।

पति अस्पताल में भर्ती था और पत्नी कर रही थी शॉपिंग
दिवंगत डॉक्टर के भाई राजकुमार सिंह ने पुलिस को बताया है कि एक बार प्रियंका देवी ने खाने में पारा केमिकल देकर अपने पति की हत्या का प्रयास किया था। घटना के 5-6 महीने पहले एक दिन प्रियंका देवी अपने पति को खाना देकर बोली कि आज मैं नहीं खा सकती, क्योंकि मेरा पेट दर्द कर रहा है। खाना खाने के बाद डॉक्टर शिवकुमार सिंह को उल्टियां होने लगीं। फिर परिजन डॉक्टर का इलाज कराने के लिए पटना ले गए। पति के साथ इलाज कराने प्रियंका देवी भी पटना गई थी। एक तरफ अस्पताल में पति का इलाज चल रहा था, दूसरी तरफ पत्नी प्रियंका देवी ने 15 हजार रुपये की शॉपिंग कर डाली थी।

जानवरों की तरह चिकित्सक के गर्दन को रेता था कातिल ने
चिकित्सक शिवकुमार सिंह की पहली पत्नी से एक बेटा और एक बेटी हुई। चिकित्सक की दूसरी पत्नी प्रियंका देवी सौतेला बेटा की पढ़ाई में अधिक पैसे खर्च होने के कारण अपने पति से लड़ती-झगड़ती रहती थी। इस बात का जिक्र चिकित्सक के पिता देवेंद्र सिंह ने पुलिस को दिए बयान में कही है। डॉक्टर पति की हत्या कराने के बाद पत्नी प्रियंका देवी अपने प्रेमी सचिन भास्कर के साथ रक्सौल भाग गई थी। चिकित्सक शिवकुमार सिंह की हत्या दर्दनाक तरीके से की गई थी। रसौली चंवर में जिसने भी चिकित्सक के शव को देखा, लोगों का हत्यारों के प्रति गुस्से से खून खौल उठा था। चिकिसक के दास्ताने, मफलर सब खून से सने थे। जानवरों की तरह चिकित्सक के गर्दन को रेता गया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments