Wednesday, September 22, 2021
Homeजम्मू कश्मीरकश्मीर : उड़ी सेक्टर में पाकिस्तान की भारी गोलाबारी, जवान शहीद, जवाबी...

कश्मीर : उड़ी सेक्टर में पाकिस्तान की भारी गोलाबारी, जवान शहीद, जवाबी कार्रवाई में कई चौकियां ध्वस्त

जम्मू-कश्मीर में बारामुला के उड़ी सेक्टर में पाकिस्तान ने एलओसी पर बुधवार दोपहर से ही भारी गोलाबारी किया। इस दौरान पाकिस्तान ने भारतीय सेना की कई चौकियों सहित सीमा से सटे गांव को भी निशाना बनाया। भारी गोलाबारी में पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देते हुए सेना का एक जवान शहीद हो गया।

सैन्य सूत्रों ने बताया कि उड़ी सेक्टर के सिलिकूट गांव और आसपास के इलाकों को निशाना बनाकर पाकिस्तानी सेना भीषण गोलाबारी कर रही है। भारतीय सेना इस गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दे रही है। इस दौरान जवाभी कार्रवाई में सेना का एक जवान शहीद हो गया।

भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई में पाक की कई चौकियों को ध्वस्त कर दिया है। जिसके चलते पाक सैनिकों को वहां से भागना पड़ा है।

आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद सरहद पर लगातार अशांति रही है। पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन करते हुए जमकर सीजफायर तोड़ा है। यही नहीं, मौजूदा वर्ष में पिछले साल की तुलना में डेढ़ गुणा अधिक सीजफायर तोड़ा गया है। पाकिस्तान ने लगातार सरहद पर अशांति फैलाई और जवानों के साथ सरहद पर रहने वाले लोगों को भी परेशान किया।

5 अगस्त 2019 के बाद से अब तक पाकिस्तान ने एलओसी पर 950 बार सीजफायर तोड़ा है। जबकि 2019 में अब तक 2400 बार सीजफायर तोड़ा है। पिछले साल 1800 बार सीजफायर तोड़ा गया था। लगातार सीजफायर टूटने से सरहद पर रहने वाले लोगों को जीना मुहाल हो चुका है। पाकिस्तान की ओर से हर रोज रिहायशी इलाकों को टारगेट करके गोलाबारी की जा रही है।

पुंछ और कुपवाड़ा में सबसे ज्यादा तनाव

पाकिस्तान सबसे ज्यादा पुंछ जिले की एलओसी पर सीजफायर तोड़ रहा है। पुंछ के शाहपुर और कुपवाड़ा के किरणी सेक्टर में लगातार गोलाबारी की जा रही है। अकेले पुंछ में ही इस साल 1800 से अधिक बार सीजफायर तोड़ा गया है।

लगातार सीजफायर टूटने से सरहद पर तनाव का माहौल है। दोनों देशों के बीच पुंछ जिले में युद्ध जैसा माहौल बना हुआ है। हालांकि भारतीय सेना ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया है। पाकिस्तान को इस साल भारी नुकसान उठाना पड़ा है। बावजूद इसके वह अपनी हरकतों से बात नहीं आ रहा।

सेना अध्यक्ष भी मान चुके

सरहद पर मौजूदा हालातों को लेकर सेना अध्यक्ष जनरल विपिन रावत भी कह चुके हैं कि सरहद पर माहौल खराब है। कभी भी, कुछ भी हो सकता है और भारतीय सेना ऐसी किसी भी हरकत का जवाब देने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

पूरी तरह से बंकर भी नहीं बने

एलओसी के राजोरी, पुंछ, कुपवाड़ा, बारामुला और बांदीपोरा जिलों में पूरी तरह से बंकरों का निर्माण भी नहीं हुआ है। इसकी वजह से पाकिस्तान जानबूझ कर रिहायशी इलाकों को टारगेट कर रहा है। जिससे स्थानीय लोग परेशान हो रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments