Friday, September 17, 2021
Homeहरियाणापानीपत : बहन की डोली से पहले उठी भाई की अर्थी :...

पानीपत : बहन की डोली से पहले उठी भाई की अर्थी : आठ दिन से लापता श्रमिक का शव पानीपत में नहर किनारे सड़ी-गली हालत में मिला

पानीपत के शिवनगर से 15 अप्रैल से लापता श्रमिक का शव इसराना थाना क्षेत्र की नहर के किनारे सड़ी-गली हालत में मिला है। 30 अप्रैल को युवक की बहन की शादी होनी थी। इसके लिए परिवार को 17 अप्रैल को घर जाना था, लेकिन पूरा परिवार युवक को ढूंढने में लगा रहा। शव मिलने के बाद बहन की शादी कैंसिल कर दी। शव पर चोट के कोई निशान नहीं हैं। मॉडल टाउन थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मूल रूप से उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी निवासी महेंद्र ने बताया कि वह पांच भाई थे। सभी शिवनगर में किराए पर रहकर मेहनत-मजदूरी करते हैं। उनका चौथे नंबर का भाई 23 साल के रामकरण मॉडल टाउन क्षेत्र के शांतिनगर में चिनाई का काम कर रहा था।

वह 15 अप्रैल को घर से काम पर निकला, लेकिन वापस नहीं लौटा। तभी से पूरा परिवार उसे ढूंढने में लगा है। गुरुवार शाम को पुलिस का फोन आया और रामकरण का शव मिलने की सूचना दी। उन्होंने सिविल अस्पताल पहुंचकर शव की शिनाख्त की है। महेंद्र ने बताया कि उनकी किसी से दुश्मनी नहीं है और न ही किसी पर शक है। पुलिस अपने स्तर से मामले की जांच कर रही है।

17 अप्रैल को घर जाना था, रामकरण बोला आज और काम पर चला जाऊं

महेंद्र ने बताया कि 30 अप्रैल को उनकी बहन नीलम की शादी थी। इसके लिए पूरे परिवार को 17 अप्रैल को घर जाना था। सभी तैयारी कर रहे थे। 15 अप्रैल को रामकरण बोला कि आज और काम पर चला जाता हूं और वापस ही नहीं आया। अब बहन की शादी कैंसिल करनी पड़ी है। महेंद्र की बेटी की शादी भी 8 मई को तय है। रामकरण के पास डेढ़ साल की बेटी है।

मोबाइल से सिम निकालकर मिलाया नंबर

मॉडल टाउन थाना पुलिस ने बताया कि रामकरण के साथ लूटपाट तो नहीं हुई है। उसकी जेब से मोबाइल मिला है। सिम दूसरे मोबाइल में डालकर ही रामकरण के परिजनों को सूचना दी गई थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments