पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ का एक छात्र टेरर फंडिंग मामले में गिरफ्तार

0
21

पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ के एक छात्र को टेरर फंडिंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपित युवक पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ में एमए का छात्र है। आरोपित की पहचान अर्शदीप के तौर पर हुई है जो, मूल रूप से पंजाब के भवानीगढ़ जिला संगरूर का रहने वाला है।आरोपित को स्टेट स्पेशल आपरेशन सेल (एसएसओसी) ने गिरफ्तार किया है। एसएसओसी की टीम ने आरोपित युवक को सीक्रेट इंफार्मेशन पर चंडीगढ़ से गिरफ्तार किया है। आरोपित अर्शदीप विदेश में बैठे लखबीर सिंह लंडा और लारेंस बिश्नोई गैंग के सदस्य गोल्डी बराड़ का साथी है।

इसके अलावा विदेश में बैठे आइएसआइ के गुर्गे पीयू स्टूडेंट अर्शदीप के बैंक खाते में रुपये भेज रहे थे। आरोपित की गिरफ्तारी उसके बैंक अकाउंट डिटेल के आधार पर हुई है। आरोपित को कोर्ट में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। आरोपित को दुबई,अमेरिका, फिलीपींस, इटली और मलेशिया में रह रहे पंजाब के मूल निवासी आइएसआइ के लिए फंडिंग और हथियारों की सप्लाई करने का काम करने वाले स्लीपर सेल के जरिए टेरर फंडिंग की जा रही थी।

एसएसओसी इसके बैंक खातों की जांच करेगी। यह पता लगाने की कोशिश की जाएगी कि अब तक कितनी फंडिंग इसके अकाउंट में हुई है। उस फंडिंग को इसने कहां इस्तेमाल किया है। ये भी पता चला है कि ये काफी लंबे समय से गोल्डी बराड़ व लखबीर लंडा के संपर्क में था। लखबीर लंडा मोहाली में पंजाब खुफिया विभाग के दफ्तर पर आरपीजी फायर करवाने का मुख्य आरोपित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here