Friday, September 24, 2021
Homeदिल्लीजेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट को मारने का प्लान, बातचीत वायरल

जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट को मारने का प्लान, बातचीत वायरल

तिहाड़ जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट की हत्या की साजिश को स्पेशल सेल ने बेनकाब कर दिया। पुलिस ने इस मामले में रोहित चौधरी गैंग के शार्प शूटर सतेन्द्र उर्फ सत्ते को अरेस्ट किया है। सतेन्द्र हत्या के एक मामले में जमानत पर बाहर आया हुआ था। पुलिस ने इसके पास से एक सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल और छह जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। सतेन्द्र पर बीस से ज्यादा आपराधिक केस दर्ज हैं। यह साजिश तिहाड़ में अंकित गुर्जर की मौत का बदला लेने के इरादे से रची गई थी।

बकायदा, इस साजिश को लेकर फोन पर हुई बातचीत का ऑडियो भी वायरल है, जिसमें इस जेल अधिकारी को एके 47 या पिस्टल से मार देने की बात की जा रही है। स्पेशल सेल के मुताबिक आरोपी सतेन्द्र (28) गोविंदपुरी क्षेत्र का रहने वाला है। इसे 17 अगस्त की रात आउटर रिंग रोड चिराग दिल्ली से पकड़ा गया था। सतेन्द्र रोहित चौधरी गैंग से जुड़ा है। इस गैंग की दुश्मनी प्रिंस तेवतिया गैंग के साथ है। सतेन्द्र जेल नंबर तीन तिहाड़ में चार अगस्त को मर चुके गैंगस्टर अंकित गुर्जर का भी सहयोगी है।

हाल ही में एक ऑडियो कॉल वायरल हुई थी, जिसमें एक शख्स अपने सहयोगी से इस हत्या को अंजाम देने के लिए एके-47 राइफल का बंदोबस्त करने के लिए बोल रहा है। वह तिहाड़ जेल में मर चुके अंकित गुर्जर की हत्या का बदला लेना चाहते थे। उनका कहना था कि अंकित का बेशक एनकाउंटर हो जाता तो कोई दुख नहीं होता लेकिन जिस तरह से उसे तड़पा तड़पाकर मारा गया है, वह बेहद दर्दनाक है।

अंकित की मौत को लेकर हरि नगर थाने में हत्या का मामला भी दर्ज है। पुलिस ने इस ऑडियो कॉल की बातें सुन आरोपियों के बारे में जानकारी जुटानी शुरु की। दस दिन के बाद पुलिस ने आखिरकार कॉल सतेन्द्र की पहचान की और उसे अरेस्ट किया। आरोपी सतेन्द्र ने पूछताछ में बताया वह फोन पर अपने सहयोग अजय गुर्जर से इस साजिश को लेकर बात कर रहा था। अजय पलवल हरियाणा का रहने वाला है।

छह मई 2019 को सतेन्द्र ने अंकित गुर्जर, रोहित चौधरी और अन्य के साथ मिलकर प्रिंस तेवतिया गैंग के सदस्य प्रिंस की साकेत इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी थी। यह वारदात इलाके में वर्चस्व की लडाई का नतीजा था। सतेन्द्र अपने सहयोगियों के संग मिलकर प्रॉपर्टी डीलरों, सट्टा ऑपरेटर, बिल्डर आदि लोगों से वसूली करता था। सतेन्द्र तीन महीने के लिए पिछले महीने 16 जुलाई को ही जेल से जमानत पर छूटकर बाहर आया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments