Saturday, September 25, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशअखिलेश बैग के सहारे घर - घर पहुंचने की तैयारी

अखिलेश बैग के सहारे घर – घर पहुंचने की तैयारी

उत्तर प्रदेश में अनौपचारिक रूप से 2022 के विधानसभा चुनाव का ऐलान हो चुका है। राजनीतिक दल नए-नए तरीके से प्रचार का तरीका निकाल रहे हैं। हाल ही में सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत निशुल्क राशन वितरण का कार्यक्रम शुरू किया है। जिसमें सरकार पांच किलोग्राम राशन दे रही है। इसकी खास बात यह है कि जिस बैग में यह राशन दिया जा रहा है, उस पर पीएम मोदी की फोटो भी छपी हुई है। जिसकी सोशल मीडिया पर खूब चर्चा हो रही है।इसी तर्ज पर लखनऊ के उत्तरी विधानसभा से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे सपा नेता वे लोहिया वाहिनी के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष चांद सिद्दीकी ने प्रचार का अनोखा तरीका ढूंढ लिया है। चांद सिद्दीकी होर्डिंग और पोस्टर से इतर अब बैग पर अखिलेश यादव की फोटो और सपा सरकार के दौरान शुरू हुईं जनहित की योजनाओं को छपवाकर दुकानों पर बांटेंगे। जिसमें दुकानदार सामान देंगे। इससे घर-घर तक सपा मुखिया की फोटो के साथ उनकी योजनाएं पहुंच जाएंगी। इसमें चावल, दाल, नमक, आटा समेत सभी मसाले और तेल दिया जा रहा है।

लाखों खर्च करने के बाद भी आम जनता तक पहुंच नहीं

सपा नेता चांद सिद्दीकी ने बताया कि होर्डिंग और पोस्टर में लोग लाखों रूपए खर्च करते हैं। इनका आम जनता कोई सदुपयोग नहीं कर पाती है। इसलिए उन्होंने इस बार निर्णय लिया है कि उत्तरी विधानसभा के प्रत्येक बाजार में अखिलेश यादव की फोटो और उनकी सरकार की योजनाओं वाले बैग बनवाकर बांटेंगे। उन्होंने बताया कि उत्तरी विधानसभा में कुल 21 वार्ड हैं। प्रत्येक वार्ड की बड़ी बाजारों में दुकानदारों को बांटा जाएगा।

पर्यावरण का भी रखेंगे ध्यान

सपा नेता चांद सिद्दीकी कहते हैं कि बाजारों में पॉलिथीन बंद हो चुकी है। ऐसे में दुकानदारों के सामने सामान देने का संकट रहता है। उन्होंने बताया कि वह जो बैग बनवाएंगे वह मजबूत भी होगा, जिसका उपयोग लंबे समय तक किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि होर्डिंग-पोस्टर में पैसा खर्च करने से अच्छा है कि ऐसे बैग बनवाएं, जिसका उपयोग जनता भी कर सकेगी।

ऐसे आया आईडिया

चांद सिद्दीकी ने बताया कि यह आईडिया अचानक से आया। उन्होंने बताया कि शनिवार को सपा सांसद आजम खां का 73वां जन्मदिसव था। इस मौके पर हमने जानकीपुरम प्रथम वॉर्ड के 73 जरूरतमंद लोगों को राशन का पैकेट दिया। इस पैकेट पर अखिलेश यादव की फोटो छपवाई थी। साथ ही उस पर 2013 में आया राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम का जिक्र किया था। उन्होंने बताया कि इस पैकेट में उन्होंने पांच किलो का राशन दिया। जिसमें दाल, चावल, नमक, आटा, मसाला आदि था। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के बाद उनको आईडिया आया कि ऐसे बैग भी हम बांट सकते हैं, जिससे कि अपनी पार्टी का प्रचार भी जाए और लोगों की मदद भी की जा सके।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments