राजस्थान : आयुर्वेद विभाग का ड्रग कंट्रोलर अफसर व इंस्पेक्टर ने मांगी 2 लाख रुपए की रिश्वत, 25 हजार रुपए लेते पकड़ा

0
27

जोधपुर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए आयुर्वेद विभाग, जयपुर के ड्रग कंट्रोलर और जोधपुर में पदस्थापित आयुर्वेद विभाग के एक इंस्पेक्टर को 25 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई जोधपुर में एसीबी के प्रभारी एडिशनल एसपी नरेंद्र चौधरी ने की। एएसपी चौधरी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी सुरेश शर्मा, आयुर्वेदिक विभाग जयपुर में ड्रग कंट्रोलर है। वहीं, दूसरा आरोपी इंदिवर भारद्वाज है। वह आयुर्वेद विभाग, जोधपुर में इंस्पेक्टर है।

इनके खिलाफ उम्मेद हेरिटेज, जोधपुर के श्रवण डागा ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें बताया कि परिवादी का फार्मेसी लाइसेंस का रिन्यूअल करने की एवज में ड्रग कंट्रोलर सुरेश शर्मा ने डेढ़ लाख रुपए और इंस्पेक्टर इंदिवर भारद्वाज ने 51 हजार रुपए की रिश्वत मांगी। एसीबी के शिकायत सत्यान के बाद बुधवार को ट्रेप रचा। जिसमें परिवादी श्रवण डागा रिश्वत की रकम लेकर इंदिवर भारद्वाज के घर पहुंचा।

जहां उसने इंदिवर को 25 हजार रुपए रिश्वत की रकम दी। जबकि वहां उपस्थित ड्रग कंट्रोलर सुरेश शर्मा ने जयपुर में हाथोज गांव, कालवाड़ रोड स्थित उनके निजी आवास पर रिश्वत की रकम पहुंचाने की बात कही। मौके पर मौजूद इंद्रकुमार व रामदेव सिंह के जरिए रिश्वत की रकम इंदिवर को देने पर उसके हाथ धुलवाए तो रंग पाया गया।

ऐसे में इंद्र कुमार को भी एसीबी ने हिरासत में ले लिया। एसीबी को एक लाख रुपए की रिश्वत की रकम भी परिवादी श्रवण डागा के पास मिली। जो कि जयपुर में ड्रग कंट्रोलर सुरेश शर्मा को देनी थी। तब एसीबी टीम ने जयपुर स्थित सुरेश शर्मा के हाथोज स्थित घर पर भी सर्च कार्रवाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here