Friday, September 24, 2021
Homeराजस्थानराजस्थान : दुष्कर्म पीड़िता द्वारा आत्मदाह मामला; थानाधिकारी संजय गोदारा एपीओ, विरोध में...

राजस्थान : दुष्कर्म पीड़िता द्वारा आत्मदाह मामला; थानाधिकारी संजय गोदारा एपीओ, विरोध में व्यापारियों ने बंद रखा बाजार

जयपुर. वैशाली नगर थाने में महिला द्वारा आत्मदाह करने के मामले में थानाधिकारी संजय गोदारा को एपीओ कर दिया गया है। पुलिस मुख्यालय ने आदेश जारी कर इसकी जानकारी दी है। वहीं, पूरे मामले की जांच सीआईडी सीबी को सौंपी गई है। वहीं, मंगलवार को राजपूत समाज के सर्व संगगठनों. करणी सैना, क्षत्रिय महासभा, वैशाली व्यापार मंडल और खातीपुरा व्यापार मंडल द्वारा बाजार बंद रखे गए। सुबह 9 बजे से 1 बजे तक बाजार बंद रखे गए। इनकी मांग है कि डिप्टी राय सिंह बैनिवाल और थानाधिकारी संजय गोदारा को सस्पेंड किया जाए।

प्रदर्शन के दौरान बड़ी संख्या में लोग वैशाली नगर मार्केट बंद करवाने पहुंचे। इस दौरान चेतावनी दी गई कि दोषियों को नहीं हटाया जाता तो जयपुर बंद करवाया जाएगा।  गौरतलब है कि दुष्कर्म मामले में एक माह बाद भी न्याय नहीं मिलने और पुलिस अफसरों की ओर से केस वापस लेने का दबाव बनाने का आरोप लगाते हुए एक महिला ने रविवार शाम वैशालीनगर थाना परिसर में खुद को आग लगा दी। जिसकी सोमवार सुबह अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। महिला का एक 13 साल का बेटा है।

क्या है मामला

कंचन विहार निवासी इस महिला ने करीब एक माह पहले फतेहपुर शेखावाटी स्थित कारंगाछोटा निवासी रविन्द्र सिंह के खिलाफ दुष्कर्म करने का मामला दर्ज कराया था। इसमें कहा गया था कि उनके पति आर्मी में जम्मू कश्मीर में तैनात थे। आरोपी उनके गांव के नजदीक का है। करीब चार साल पहले वह पति के साथ घर आया था। इसके बाद वह आएदिन घर आने लगा। एक दिन आरोपी उसे किसी काम से ले गया और दोस्त के क्वार्टर पर ले जाकर कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया। बेहोश होने पर दुष्कर्म किया और वीडियो क्लीप बना ली। इसके बाद क्लीप को वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म करने लगा। पति आर्मी से रिटायरमेंट लेकर घर आए तब उन्हें सारा घटनाक्रम बताया। इसके बाद आरोपी के खिलाफ इसी साल जून माह में मामला दर्ज कराया था।

विवादों में रहे हैं इंस्पेक्टर संजय गोदारा

वैशाली नगर थाना प्रभारी संजय गाेदारा काे जयपुर कमिश्नरेट में अाने के बाद विवादाें के कारण ही शिप्रापथ थाने से हटाया था। शिप्रापथ थाने के ठीक सामने मैदान में किसी ने एक व्यक्ति की हत्या कर लाश जला दी, लेकिन थाने में माैजूद किसी शख्स काे इसकी भनक तक नहीं लगी। लापरवाही के चलते थाना प्रभारी संजय गाेदारा काे शिप्रापथ थाने से हटाकर लाइन भेज दिया गया था। लाइन से करणी विहार थाना प्रभारी लगाया। जहां एक व्यक्ति की चालान कारवाई के दाैरान अटैक अा गया था। जिसकी अस्पताल में माैत हाे गई। इसके बाद करणी विहार थाने से ट्रांसफर कर वैशाली नगर थाने में लगा दिया। वैशाली नगर में अब दुष्कर्म पीड़िता के अात्मदाह का मामला सामने अा गया। पीड़िता ने जब खुद काे अाग लगाई तब थाना प्रभारी संजय गाेदारा झाेटवाड़ा में ड्यूटी पर गए हुए थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments