Monday, September 27, 2021
Homeपंजाबपंजाब बंद : मंदिर गिराने पर सड़कों पर उतरा रविदास समाज; धरना-प्रदर्शन,...

पंजाब बंद : मंदिर गिराने पर सड़कों पर उतरा रविदास समाज; धरना-प्रदर्शन, रेल ट्रैफिक भी ठप होने से परेशानी

जालंधर. दक्षिणी दिल्ली में रविदास मंदिर गिराने के विरोध में रविदास समाज ने बंद का आह्वान किया है। शहर के अधिकतर हिस्सों में सुबह से रविदास समाज के लोगों ने धरने लगाने शुरू कर दिए हैं। फोकल प्वाइंट और टांसपोर्ट नगर चौक और अन्य कई जगहों पर यातायात ठप कर दिया है। इन जगहों से वाहनों को गुजरने नहीं दिया जा रहा है। शहर में किसी अप्रिय घटना से निपटने के लिए करीब चार हजार पुलिस मुलाजिमों की ड्यूटी लगाई गई है। संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।

रविदास समाज के लोग विभिन्न जिलों में प्रदर्शन करेंगे। जालंधर, लुधियाना, होशियारपुर, गुरदासपुर व कपूरथला में सरकारी व प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे। पठानकोट सहित कई जगहों पर रविदास समाज के लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। जालंधर शहर में लाडो वाली रोड में मार्केट में बंद को समर्थन में दुकानें बद रखी गई हैं। दवाइयों की दुकानें भी बंद है। प्रदर्शनकारियों ने लाडोवाली रोड फाटक पर लोहे की चेन लगाकर पूरा रास्ता ब्लॉक कर दिया है। शहर अन्य जगह भी इसी तरह के नाके लगे हैं। बंद के आह्वान के कारण भोगपुर और करतारपुर में मुक्कमल बंद देखने को मिला है। बाजारों में दुकानें बंद हैं। लोगों की आवाजाही भी बहुत कम है। इससे सुबह के समय काम पर जाने वाले लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। हालांकि बंद को लेकर प्रशासन ने भी तैयारियां कर ली हैं। भोगपुर में प्रदर्शनकारियों ने मंदिर गिराए जाने के विरोध में नारेबाजी करके केंद्र और राज्य का पुतला फूंका।

हालांकि, बसें सुचारू रूप से चलती रहेंगी। पंजाब रोडवेज के जनरल मैनेजर परनीत सिंह मिन्हास ने कहा कि पंजाब रोडवेज मुख्यालय ने बसें बंद रखने संबंधी कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।

पुलिस ने कहा- किसी को कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं

पुलिस कमिश्नर भुल्लर ने बताया कि बंद के दौरान किसी को भी कानून हाथ में लेने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई है। पीएपी से अतिरिक्त फोर्स भी मंगवा ली गई है। देहाती इलाके में बंद के दौरान किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए देहात पुलिस ने भी तैयारी कर ली है। एसएसपी नवजोत सिंह माहल ने बताया कि करीब दो हजार पुलिस कर्मियों को सुरक्षा में तैनात किया गया है। आला अधिकारी खुद फील्ड में रहेंगे। पुलिस फोर्स हर जगह तैनात है।

बल्ला में गद्दीनशीन से मिले केंद्रीय मंत्री

इसी बीच केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने डेरा सचखंड बल्ला में गद्दीनशीं संत निरंजन दास से मुलाकात कर उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। सोम प्रकाश ने कहा है कि मंदिर के लिए दोबारा जमीन अलॉट करवाने का प्रयास करेंगे।

कांग्रेसी-अकाली नेताओं ने की शांति की अपील

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके पूर्व सांसद सुनील जाखड़ ने प्रदर्शन के दौरान आम लोगों को कोई परेशानी न होने को यकीनी बनाने की अपील की है। जाखड़ ने कहा कांग्रेस रविदास समाज के साथ खड़ी है और सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर गिराए गए मंदिर के लिए उसी ऐतिहासिक स्थान को फिर से अलॉट करने व मंदिर के दोबारा निर्माण के मामले की पैरवी के लिए हर संभव सहयोग देगी। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य शमशेर सिंह दूलो ने भी इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत से मुलाकात की है।

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने कहा है कि वह इस मुद्दे पर केंद्र सरकार से बात करेंगे। पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल ने भी मंदिर गिराने की घटना को गलत बताया है।

प्रदेश में कहां कैसे हैं हालात?

दोपहर में प्रदर्शनकारी लुधियाना के पास लुधियाना-जालंधर रेलवे ट्रैक पर पहुंच गए और उसे जाम कर दिया। इस कारण कई ट्रेनें विभिन्‍न स्‍टेशनों पर रुकी गईं। यह रेलमार्ग काफी व्‍यस्‍त होने के कारण लंबी दूरी की ट्रेनों पर असर पड़ी। शान-ए-पंजाब ट्रेन काफी देर से खन्‍ना रेलवे स्‍टेशन पर रुकी रही। बाद में करीब दो घंटे बाद ट्रैक खाली कराने के बाद शान-ए-पंजाब को खन्‍ना स्‍टेशन से लुधियाना रवाना किया गया। बटाला में भी प्रदर्शनकारी रेलवे ट्रैक पर पहुंच धरना देकर बैठ गए।

समुदाय के लोगों ने लुधियाना के बस्ती जोधेवाल, जालंधर बाईपास, ताजपुर चौक, भारत नगर चौक समेत अलग-अलग हिस्साें में समुदाय के लोग सड़क पर उतरे हैं। शहर के निजी स्कूल व सरकारी स्कूल बंद हैं। यातायात रोक दिया है। फगवाड़ा में भी सैकड़ों लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। शहर के शुगर मिल चौक पर रविदासिया समाज के लोग धरना देकर बैठ गए। इससे यातायात पूरी तरह से ठप हो गया है। फरीदकोट, माेगा, कपूरथला में भी बंद का व्‍यापक असर हुआ है और बाजार बंद हैं। लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं और बसें नहीं चलने से यात्रियों को भारी परेशानी हो रही है।

गुरदासपुर जिले में बंद के असर की खबर है। बटाला में शहर का मेन बाजार बिल्कुल बंद है। रूपनगर व तरनतारन में भी बाजार बंद हैं। सड़क यातायात भी प्रभावित हुआ है। तरनतारन के बोहड़ चौक पर प्रदर्शनकारियों ने जमकर नारेबाजी की।

अबोहर और मानसा में भी बंद का व्‍यापक असर हुआ है। प्रमुख बाजार बंद हैं और बसों का आवागमन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। प्रमुख स्‍थानों पर अर्द्ध सैनिक बलों और पंजाब पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है।

उधर पटियाला में बंद का मिला-जुला असर पड़ा। यहां बस सेवा बाधित होने से विभिन्न महकमों के कर्मचारी समय पर ड्यूटी पर नहीं पहुंच पाए। प्रदर्शन में शामिल अकाली दल के 2017 में नाभा से विधानसभा चुनाव लड़ चुके नेता कबीरदास ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करने की कोशिश की तो लोगों ने उनसे माइक छीन लिया। उन्हें आरएसएस समर्थक बताया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments