Friday, September 24, 2021
Homeव्यापारफॉर्च्यून - ग्लोबल-500 लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की टॉप कंपनी बनी,...

फॉर्च्यून – ग्लोबल-500 लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की टॉप कंपनी बनी, आईओसी दूसरे नंबर पर फिसली

  • दुनियाभर में रिलायंस की 106वीं, आईओसी की 117वीं रैंकिंग
  • पिछले साल रिलायंस 148वें और आईओसी 137वें नंबर पर थी
  • लिस्ट में 7 भारतीय कंपनियां शामिल, टॉप-100 में एक भी नहीं
  • कंपनियों के सालाना रेवेन्यू के आधार पर रैंकिंग तैयार की गई

नई दिल्ली. फॉर्च्यून ग्लोबल-500 लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की टॉप कंपनी बन गई है। रिलायंस ने रैंकिंग में 42 पायदान की छलांग लगाकर इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) को पीछे छोड़ दिया है। दुनियाभर की कंपनियों की लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज की 106वीं रैंक है। आईओसी का 117वां नंबर है। पिछले साल रिलायंस की 148वीं और आईओसी की 137वीं रैंकिंग थी।

रिलायंस का रेवेन्यू एक साल में 32% बढ़ा, आईओसी की 18% ग्रोथ

  1. रिलायंस लगातार 16 साल से फॉर्च्यून की ग्लोबल-500 लिस्ट में बनी हुई है। कंपनी का रेवेन्यू 2018 के 62.3 अरब डॉलर के मुकाबले 32.1% बढ़कर 82.9 अरब डॉलर हो गया है। दूसरी ओर आईओसी के रेवेन्यू में 17.7% ग्रोथ दर्ज की गई है। यह 65.9 अरब डॉलर से बढ़कर 77.6 अरब डॉलर हो गया। पिछले 10 साल में रिलायंस इंडस्ट्रीज के रेवेन्यू की कंपाउंड एनुअल ग्रोथ 7.2% जबकि आईओसी की 3.64% रही है।
  2. ग्लोबल-500 लिस्ट में शामिल 7 भारतीय कंपनियां
    कंपनीरैंकिंगरैंकिंग में बदलाव
    रिलायंस इंडस्ट्रीज106+42
    आईओसी117+20
    ओएनजीसी160+37
    एसबीआई236-20
    टाटा मोटर्स265-33
    भारत पेट्रोलियम275+39
    राजेश एक्सपोर्ट495-90
  3. सऊदी अरामको पहली बार टॉप-10 में शामिल

    अमेरिका की रिटेल कंपनी वॉलमार्ट इस साल भी टॉप पर है। चीन की सरकारी ऑयल एंड गैस कंपनी सिनोपेक दूसरे नंबर पर है। डच कंपनी रॉयल डच शेल का तीसरा, चाइना नेशनल पेट्रोलियम का चौथा और चीन की ही स्टेट ग्रिड कंपनी का चौथा नंबर है। सऊदी अरब की तेल कंपनी सऊदी अरामको पहली बार टॉप-10 में आई है। उसका 10वां नंबर है।

  4. 31 मार्च 2019 तक कंपनियों के बीते एक साल के रेवेन्यू के आधार पर यह रैंकिंग की गई है। फॉर्च्यून हर साल दुनियाभर की टॉप-500 कंपनियों की रैंकिंग जारी करता है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments