Tuesday, September 28, 2021
HomeUncategorizedआर के सिंह होंगे बिहार भाजपा का चेहरा ?

आर के सिंह होंगे बिहार भाजपा का चेहरा ?

बिहार भाजपा में धीरे से बदलाव की बयार चल पड़ी है। राज्यमंत्री से केन्द्र में कैबिनेट मंत्री बनें आर के सिंह, बिहार में आर्शीवाद जन यात्रा पर निकलेंगे। यूपी से सटे बिहार के 6 जिलों में यात्रा पर निकलने वाले आर के सिंह अपने इस यात्रा में राज्य के 20 विधानसभा क्षेत्रों में जाएंगे ।

यूपी से सटे जिलों में करेंगे आर्शीवाद जन यात्रा, 3 दिनों में 6 जिलों का करेंगे दौरा

केंद्रीय विद्युत एवं उर्जा मंत्री आर के सिंह बिहार में आर्शीवाद जन यात्रा पर निकलेंगे। उनकी ये यात्रा 19 अगस्त से 21 अगस्त तक होगी । इस यात्रा का ऐलान आज प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने किया है। गया, औरंगाबाद , सासाराम , भभुआ , बक्सर और आरा जिले के 20 विधानसभा में इस दौरान 52 कार्यक्रम आर के सिंह करेंगे । इस यात्रा में केन्द्रीय मंत्री कुल 380 किमी की यात्रा करेंगे । अपनी यात्रा में आर के सिंह वैक्सीनेशन सेंटर , पीडीएस दुकानों पर जाएंगे और महापुरूषों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण करेंगे । भाजपा की तरफ से देशव्यापी निकाले गए इस यात्रा में मोदी कैबिनेट के 39 मंत्री, 22 राज्यों के 212 लोकसभा क्षेत्रों में यात्रा पर निकलेंगे । इस दौरान ये यात्रा 265 जिलों को कवर करेगी । बिहार से केन्द्रीय कैबिनेट में शामिल भाजपा के 4 सांसदों में से केवल आर के सिंह को ही इस यात्रा का हिस्सा बनाया गया है।

बिहार से प्रधानमंत्री के सबसे भरोसेमंद सिपाही बन चुके हैं आर के सिंह

पूर्व नौकरशाह आर के सिंह, बिहार से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सबसे भरोसेमंद बन चुके हैं। यही वजह है कि हाल ही के दिनों में जब दिग्गज माने रहे थे कि केन्द्रीय मंत्रियों का केन्द्रीय मंत्रिमंडल से पत्ता साफ हो गया , तब आर के सिंह को स्वतंत्र प्रभार (राज्यमंत्री ) से कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया । बिहार में आर्शीवाद जन यात्रा में उन जिलों पर फोकस किया गया है जो खासतौर से यूपी से सटे हैं। इन्ही में से एक बक्सर जिला है जहां से केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे आते हैं । 8 जुलाई को केन्द्रीय कैबिनेट के विस्तार में अश्विनी चौबे को भी एक की जगह दो मंत्रालयों के राज्यमंत्री का जिम्मा मिल गया , लेकिन आर्शीवाद जन यात्रा में उन्हें भागीदारी नही मिली है । कुछ ऐसा ही हाल केन्द्रीय मंत्री गिरीराज सिंह का भी है जिन्हें कैबिनेट विस्तार में इस बार पहले से ज्यादा बड़ा मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है । लेकिन इसके बाबजूद उन्हें भी आर्शीवाद जन यात्रा में भागीदारी नही मिली है । केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय भी आर्शीवाद जन यात्रा पर नही निकल पाएंगे ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments