Tuesday, September 28, 2021
Homeजम्मू कश्मीरजम्मू-कश्मीर: घाटी में कड़ी सुरक्षा के बीच 3 महीने बाद खुले स्कूल

जम्मू-कश्मीर: घाटी में कड़ी सुरक्षा के बीच 3 महीने बाद खुले स्कूल

  • अनुच्छेद 370 हटने के बाद बंद हुए थे स्कूल
  • बीच में स्कूल खुलने पर भी नहीं आते थे छात्र
  • अभिभावकों को छात्रों की सुरक्षा को लेकर डर

कश्मीर घाटी में आज लंबे समय बाद स्कूल खुलेंगे. समाचार एजेंसी पीटीआई ने जम्मू-कश्मीर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के हवाले से बताया है कि जम्मू कश्मीर में आज स्कूल खुलने को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है. कश्मीर घाटी में अनुच्छेद 370 हटने के बाद अगस्त में स्कूल बंद हो गए थे. सरकार ने पिछले साल के अंत में स्कूल सुचारू रूप से चलाने के लिए बहुत प्रयास किए लेकिन अभिवावकों ने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा, क्योंकि वे बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंतित थे.

कश्मीर के स्कूली शिक्षा विभाग के डायरेक्टर मोहम्मद यूनुस मलिक ने कहा, “स्कूल खुलने को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. श्रीनगर नगर निगम के अंतर्गत आने वाले स्कूल की टाइमिंग सुबह 10 बजे से शाम 3 बजे तक रहेगी, जबकि बाकी के कश्मीर डिविजन में स्कूलों की टाइमिंग सुबह 10.30 से शाम 3.30 के बीच रहेगी.”

स्कूलों का लगातार निरीक्षण के निर्देश

उन्होंने शिक्षकों से अपील की है कि वे छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए पढ़ाई पर विशेष ध्यान दें. यह हमारी जिम्मेदारी है कि छात्रों की पढ़ाई का जो नुकसान हुआ है, उसे पूरा करने के लिए हम अतिरिक्त जोर दें और छात्रों का पाठ्यक्रम समय से पूरा करें. यूनुस ने फिल्ड अफसर को निर्देश दिया है कि वे स्कूलों का लगातार निरीक्षण करें और यह सुनिश्चित करें कि समय से पाठ्यक्रम को पूरा किया जा सके.

पहले भी कई फेज में खुले थे स्कूल

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी में धारा 144 लागू हो गया था और कई तरह की पाबंदियां लग गई थीं. वहां एहतियात के तौर पर सरकार ने इंटरनेट बंद कर दिया था. लेकिन करीब एक महीने बाद हालात सामान्य होने पर घाटी के 190 स्कूल-कॉलेज खुले थे. लेकिन स्कूलों छात्रों की उपस्थिति नहीं के बराबर थी. अभिभावकों को बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता थी. स्कूलों में सन्नाटा पसरा रहता था.

हालांकि प्रशासन की ओर से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे. फिर भी छात्रों की संख्या नहीं बढ़ पाई थी. ऐसे में देखना होगा कि आज स्कूल खुलने के बाद छात्रों की संख्या कितनी रहती है. सरकार पूरा प्रयास कर रही है कि घाटी में स्कूलों में सामान्य तरीके से पढ़ाई शुरू हो जाए ताकि छात्रों की पढ़ाई के नुकसान को पूरा किया जा सके.

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments