Sunday, September 26, 2021
Homeबिहारबिहार : लॉकडाउन फेज-3 का दूसरा दिन : 81 फीसदी में नहीं...

बिहार : लॉकडाउन फेज-3 का दूसरा दिन : 81 फीसदी में नहीं दिखे संक्रमण के लक्षण, 5 दिन में 104 नए केस; रोजेदारों की जरूरतें पूरी कर रहे अफसर

पटना. बिहार में संक्रमितों की संख्या 529 हो गई है। पांच दिन में 104 नए केस मिले। 129 स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। 393 एक्टिव केस हैं। 38 में से 32 जिले प्रभावित हैं। राज्य में अब तक जितने भी संक्रमित हैं, उनमें से 81 प्रतिशत ऐसे हैं, जिनमें संक्रमण का कोई लक्षण नहीं दिखा। हाईरिस्क कॉन्टेक्ट वाले मरीजों की जब जांच की गई तो वे पॉजिटिव पाए गए।

पटना एम्स में प्लाज्मा थैरेपी से होगा इलाज
पटना एम्स ने प्लाज्मा थैरेपी की तैयारी पूरी कर ली है। आईसीएमआर मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बताएगा कि ये थैरेपी कैसे और किस संक्रमित पर करनी है। डोनर की तलाश सबसे जरूरी काम है। प्रोजेक्ट की प्रिंसिपल इनवेस्टीगेटर डॉ. नेहा सिंह के मुताबिक, डोनर मिलते ही प्लाज्मा थेरेपी शुरू कर दी जाएगी। गंभीर संक्रमित को 100 से 200 एमएल प्लाज्मा की जरूरत होती है। जो संक्रमित ठीक हो गए हैं। डिस्चार्ज होने के 14 से 28 दिन बाद उनका प्लाज्मा लिया जाता है।

बक्सर: रोजेदारों की जरूरत पूरी कर रहे अधिकारी
यहां अब तक 56 संक्रमित हैं। हॉटस्पॉट नया भोजपुर है। पांच हजार की आबादी वाला यह गांव सील है। ड्रोन से निगरानी की जा रही है। रमजान में अधिकारी इस बात का भी ध्यान रख रहे हैं कि रोजेदारों के घरों में सहरी और इफ्तार वक्त पर हो।

मुंगेर: पुलिस की सख्ती  
मुंगेर में 102 संक्रमित हैं। रेड जोन में होने के चलते जिले में किसी प्रकार की छूट नहीं है। पुलिस सख्ती से लॉकडाउन का पालन करा रही है। रविवार को यहां सात नए केस मिले। प्रशासन का दावा है कि पॉजिटिव मिले टेटिया बंबर के चार नए मरीज पहले से क्वारैंटाइन सेंटर में थे। लिहाजा, इनसे संक्रमण नहीं फैलेगा। दूसरी ओर, ग्रामीणों का कहना है कि इनमें से दो मरीज रोज रात में क्वारैंटाइन सेंटर से घर चले आते थे। ऐसे में परिजनों में उनसे अन्य लोगों में संक्रमण का खतरा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments