Saturday, September 25, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशनागरिकता कानून : उप्र के 6 जिलों में धारा 144 लागू; लखनऊ...

नागरिकता कानून : उप्र के 6 जिलों में धारा 144 लागू; लखनऊ में छात्रों ने पथराव किया, अलीगढ़-सहारनपुर में इंटरनेट ठप

लखनऊ. नागरिकता कानून के विरोध की आग असम, पश्चिम बंगाल, दिल्ली से होते हुए उत्तर प्रदेश तक पहुंच गई। रविवार रात अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में छात्रों ने हिंसक प्रदर्शन किया। पुलिस पर पथराव और तोड़फोड़ की। वहीं, सुबह लखनऊ में नदवा कॉलेज के छात्रों ने उग्र प्रदर्शन किया। पुलिस पर पथराव किया। बिल के विरोध की बढ़ते विरोध के मद्देनजर प्रदेश के 6 जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई। मेरठ, सहारनपुर और अलीगढ़ में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ डीजीपी ओपी सिंह को तलब किया है। सीएम ने प्रदेशवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

लखनऊ: नदवा के छात्रों का उग्र प्रदर्शन
सोमवार सुबह नदवा कॉलेज के छात्रों ने प्रदर्शन किया। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो छात्र उग्र हो गए। पथराव कर दिया। इससे कई पुलिसकर्मी और राहगीर घायल हुए।रविवार देर रात भी यहां 500 छात्रों ने प्रदर्शन किया था।

अलीगढ़: एमयू 5 जनवरी तक बंद

अलीगढ़ मुस्लिम विश्विवद्यालय (एएमयू) में 4 दिनों से चल रहा प्रदर्शन रविवार रात उग्र हो गया। छात्रों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इसमें डीआईजी अलीगढ़ समेत 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने आंसू गैस के गोले दागकर स्थिति पर काबू किया। पुलिस की कार्रवाई में 60 से ज्यादा छात्र घायल हुए हैं। 5 जनवरी तक एएमयू बंद कर दिया गया। परीक्षाएं अगले आदेश तक टाल दी गई हैं। छात्रों को यूनिवर्सिटी से बाहर जाने के निर्देश दिए गए हैं। यहां इंटरनेट सेवा बंद की गई है।

मेरठ: इंटरनेट सेवा ठप
पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में विरोध को देखते हुए मेरठ पुलिस अलर्ट पर है। यहां धारा 144 पहले से लागू है। सोशल मीडिया की हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। इसके लिए साइबर सेल की पांच टीम बनी है। रविवार रात 12 बजे से 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। हालांकि, सोमवार को स्कूल-कॉलेज खुले हैं।

सहारनपुर: मदरसा छात्रों ने रोड पर पढ़ी नमाज
सहारनपुर में बीते बुधवार को मदरसा छात्रों ने नागरिकता कानून के विरोध में हाईवे पर जमकर बवाल हुआ था। इस पर पुलिस ने 200 लोगों पर केस दर्ज किया था। देवबंद में भी पुलिस अलर्ट पर है। रविवार राम देवबंद थाना क्षेत्र में मदरसा छात्रों ने एक संयुक्त मार्च निकालने की कोशिश की। पुलिस ने जब उन्हें रोकने की कोशिश की तो विरोध स्वरूप छात्रों ने सड़क पर नमाज पढ़ी। इसके बाद तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन ने जिले में इंटरनेट बंद कर दिया।

बरेली: आईएमसी अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा पर केस दर्ज
नागरिकता कानून के विरोध में बरेली में भी प्रदर्शन हुए। दो दिन पहले यहां इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा ने नौमहला मस्जिद पर प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्होंने बिल वापस न लेने पर हिंदुस्तान की गलियों में खून बहने व खूनी संघर्ष जैसी तकरीरें दी थी। इसके बाद तौकीर रजा समेत 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन और भड़काऊ भाषण देने के मामले में एफआईआर दर्ज की गई।
मुख्यमंत्री ने डीजीपी को किया तलब
मुख्यमंत्री ने डीजीपी को सूबे के हालात को लेकर तलब किया। सीएम ने रविवार रात अलीगढ़, सहारनपुर, लखनऊ समेत तमाम शहरों में हुए प्रदर्शन पर डीजीपी से जानकारी ली। सीएम ने सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई से निपटने के निर्देश दिए हैं। संवेदनशील जिलों में अतिरिक्त पुलिस फोर्स भी तैनात किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments