Sunday, September 26, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशचौथे दिन बढ़ी धार्मिक भावनाएं आहत करने की धारा

चौथे दिन बढ़ी धार्मिक भावनाएं आहत करने की धारा

बर्रा में धर्मांतरण का झूठा आरोप लगाकर रिक्शा चालक से मारपीट करने के मामले में चौथे दिन बर्रा पुलिस ने धार्मिक भावनाएं आहत करने की धारा एफआईआर में बढ़ाई है। पीड़ित पक्ष ने आरोप लगाया था कि बवालियों की हरकत से उसे धार्मिक रूप से ठेस पहुंची है। इसके साथ ही अन्य सामाजिक संगठनों ने भी इस पर आपत्ति जताई थी। इसके बाद बर्रा थाने की पुलिस ने एफआईआर में यह धारा बढ़ाई है।पुलिस की लचर कार्रवाई से आरोपियों को राहत, सत्ता के दबाव में कार्रवाई नहीं करने का आरोप

बर्रा आठ रामगोपाल चौराहा पर हाईटेंशन लाइन के नीचे झुग्गी में रहने वाले अफसार अहमद को बजरंग दल और भाजपा के कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा था। इसके साथ ही भीड़ ने घर से चौराहा तक पीटते हुए जुलूस निकाला था। मामले में अफसार की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ बर्रा थाने में बलवा और मारपीट व जान से मारने की धमकी की धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई थी। वायरल वीडियो में कैद बवालियों की हरकत ने एक संप्रदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत किया था। इसे देखते हुए बर्रा पुलिस ने एफआईआर में धार्मिक भावनाएं आहत करने की धारा 298 बढोत्तरी की है। जबकि पीड़ित पक्ष की ओर से मामले में हत्या के प्रयास की भी धारा बढ़ाने की मांग की गई थी। वीडियो में एक युवक ने अफसार के सिर पर हेलमेट से जानलेवा हमला किया था। इतना ही नहीं उसे भीड़ ने जिस तरह बेरहमी से पीटा उनकी जान भी जा सकती थी। बर्रा इंस्पेक्टर हरमीत सिंह ने बताया कि फिलहाल धार्मिक भावनाएं आहत करने की धारा बढ़ाई गई है। जांच में आगे जो भी सामने आएगा कार्रवाई की जाएगी।

दूसरे दिन भी तीनों आरोपियों को मिली थाने से जमानत

बवाल के बाद बर्रा पुलिस ने गुरुवार देर रात तीन आरोपितों को अजय, अमन और राहुल को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। शुक्रवार को तीनों आरोपियों को थाने से जमानत दी गई थी। जमानत देने के बाद ही देर शाम बर्रा पुलिस ने अफसार से मारपीट के तीन अन्य आरोपित अंकित, केशू और शिवम को भी गिरफ्तार कर लिया गया था। शनिवार को इन तीनों को भी थाने से जमानत पर छोड़ दिया गया। क्यों कि जिन धाराओं में एफआईआर दर्ज है सभी में सात साल से कम सजा का प्रावधान है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments