दिल्ली में छठवां सीरो सर्वे शुरू, हर वार्ड से लिए जाएंगे 100-100 सैंपल

0
15

तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच राजधानी में दिल्ली सरकार ने शुक्रवार से छठवां सीरो सर्वे शुरू करा दिया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पूरी दिल्ली से करीब 28 हजार सैंपल लिए जाएंगे। इसके तहत हर वार्ड से करीब 100 सैंपल लिए जाएंगे। दो सप्ताह बाद सीरो सर्वे की रिपोर्ट आ जाएगी। जिससे यह पता चल सकेगा कि मौजूदा समय में दिल्ली की कितनी आबादी में कोरोना के खिलाफ एंटीबाडी बन चुकी है।उन्होंने कहा कि सैंपल लेने की प्रक्रिया एक सप्ताह में पूरी हो जाएगी। सैंपल लेने के एक हफ्ते बाद इसके नतीजे भी आ जाएंगे।

तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच राजधानी में दिल्ली सरकार ने शुक्रवार से छठवां सीरो सर्वे शुरू करा दिया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पूरी दिल्ली से करीब 28 हजार सैंपल लिए जाएंगे। इसके तहत हर वार्ड से करीब 100 सैंपल लिए जाएंगे।

दिल्ली में अब तक पांच सीरो सर्वे हो चुके हैं। इस सीरो सर्वे से यह अनुमान लगाने में आसानी होती है कि कितनी आबादी में कोरोना के खिलाफ एंटीबाडी बन चुकी है। उल्लेखनीय है कि कोरोना की तीसरी लहर से पहले पांचवें सीरो सर्वे में दिल्ली में करीब 56 फीसद आबादी में एंटीबाडी पाई गई थी।

अप्रैल में छठवां सीरो सर्वे शुरू हुआ था लेकिन सर्वे के दौरान ही संक्रमण चरम पर होने के कारण उसे बीच में रोक दिया गया था। इस वजह से छठवां सीरो सर्वे पूरा नहीं हुआ। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग मौजूदा सर्वे को छठवां सीरो सर्वे ही मान रहा है। हालांकि, तीसरी लहर के बाद डाक्टर कहते रहे हैं कि दिल्ली में करीब 75 फीसद आबादी संक्रमित हो चुकी है।

एम्स द्वारा किए गए एक सर्वे के अनुसार दिल्ली में करीब 74 फीसद लोगों में एंटीबाडी विकसित हो चुकी है। बताया जा रहा है कि नए सीरो सर्वे में उन लोगों के भी सैंपल लिए जाएंगे जो टीका ले चुके हैं। विशेषज्ञों की मानें तो इस बार सीरो सर्वे में अधिकतर रिपोर्ट सकारात्मक आने की उम्मीद है।

वहीं, दिल्ली में कोरोना केस की बात करें, तो 24 सितंबर को कोरोना के 24 मामले दर्ज किये गए और संक्रमण दर 0.03 फीसद थी। इसके साथ ही कल दिल्ली में कोरोना संक्रमण से एक भी मौत नहीं हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here